“योग स्वस्थ जीवन का आधार” कार्यक्रम में सुनील अंबेकर व भैय्या जोशी का होगा उद्बबोधन

“योग स्वस्थ जीवन का आधार” कार्यक्रम में सुनील अंबेकर व भैय्या जोशी का होगा उद्बबोधन
there-will-be-enlightenment-of-sunil-ambekar-and-bhaiya-joshi-in-the-program-quotyoga-is-the-basis-of-healthy-lifequot

जयपुर, 29 मई (हि.स.)। योग एवं भारतीय जीवन पद्धति से अपनी इम्युनिटी बढ़ा कर कोरोना से बचाव किया जा सकता है। पोस्ट कोविड में उत्पन्न होने वाली समस्याओं के समाधान में भी योग उपयोगी है। योग मन तथा शरीर में आए अवसाद,तनाव को दूर कर में सकारात्मक ऊर्जा देने में सक्षम है। इसी संकल्पना के साथ 25 मई से “योग स्वस्थ जीवन का आधार” कार्यक्रम शुरू किया गया है। यह ऑनलाइन कार्यक्रम 31 मई तक चलेगा। कार्यक्रम में 30 मई को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर और 31 मई को संघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुरेश (भैय्याजी) जोशी का उद्बोधन होगा। कार्यक्रम का प्रसारण विश्व संवाद केन्द्र, जयपुर के यू ट्यूब चैनल और फेसबुक पेज पर प्रतिदिन प्रात: 6.30 बजे एवं सायं 4 बजे से हो रहा है। ऑनलाइन योग कक्षा के माध्यम से घर-घर में योगाभ्यास करवा कर जन सामान्य से योग को दैनिक जीवन में अपनाने हेतु प्रेरित किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि ऑनलाइन चलने वाले योग एवं परामर्श के इस कार्यक्रम में आमजन प्रसिद्ध योग शिक्षकों के माध्यम से योग का प्रशिक्षण, आयुर्वेद और विभिन्न वैकल्पिक चिकित्सा पद्धतियों के प्रसिद्ध चिकित्सकों द्वारा परामर्श भी दिया जा रहा है। कार्यक्रम के माध्यम से कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न समस्याओं के समाधान के लिए जयपुर व आस-पास के 10 जिलों में योग संस्थानों के प्रमुख ऑनलाइन योग की कक्षाओं से सहभागियों को निरोगी रहने के उपाय सिखा रहे हैं। इस कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय बौद्धिक शिक्षण प्रमुख स्वांतरंजन के उद्बोधन संवाद के साथ हुआ था। इनके साथ ही योग प्रशिक्षकों में कुलभूषण बैराठी, रश्मि शर्मा, ढाकाराम सपकोटा, शेखर शर्मा, गुलशन शेखावत,उमेश शर्मा, रीना गोयल प्रीति शर्मा कविता जैन व रमाकांत शर्मा, वंदना गौड़ समान अभ्यासक्रम से प्रशिक्षण दे चुके हैं। उल्लेखनीय है कि योग के इस पुनीत अभियान में पतंजलि योग समिति, गायत्री परिवार, ब्रह्माकुमारी संस्थान, गुरुकुल योग संस्थान, क्रीड़ा भारती, प्रेक्षा वाहिनी, योग स्थली, राजस्थान विश्वविद्यालय का योग विभाग, संस्कृत विश्वविद्यालय, शास्त्री नगर योग भवन, योग संस्थान, योग संस्थान बापूनगर, योग संस्थान खेतड़ी, आश्रम, विवेकानंद केंद्र, विवेकानंद योग शिक्षक संघ, आरोग्य भारती, दुर्गापुरा गौशाला, योग साधना व एचएसएसएफ समेत कई संस्थानों के प्रतिनिधि शामिल है। हिन्दुस्थान समाचार/ रोहित/ ईश्वर