राजस्थान में कोरोना को हराने वाले मरीजों की अब बढऩे लगी संख्या

राजस्थान में कोरोना को हराने वाले मरीजों की अब बढऩे लगी संख्या
the-number-of-patients-who-defeated-corona-in-rajasthan-is-now-increasing

-कोरोना संक्रमण के 16974 नए पॉजिटिव, 154 मरीजों की मौत जयपुर, 03 मई (हि.स.)। राजस्थान में कोरोना संक्रमण की चपेट में आए मरीज अब तेजी से ठीक होने लगे है। बीते एक सप्ताह में 71 हजार से ज्यादा मरीज ठीक हुए है। राहत की बात ये है कि राज्य के कुछ जिलों में सक्रिय केसों की संख्या में भी गिरावट होनी शुरू हो गई है। प्रदेश में मंगलवार को 16 हजार 974 नए मरीज मिले हैं, जबकि 14 हजार 146 मरीज संक्रमण को मात देकर घर भी लौटे हैं। चिंता इतनी सी है कि संक्रमण के कारण दम तोडऩे वाले मरीजों का आंकड़ा कम नहीं हो रहा है। प्रदेश के विभिन्न जिलों में मंगलवार को भी 154 मरीजों की सांसों ने संक्रमण के आगे उनका साथ छोड़ दिया। विशेषज्ञों की मानें तो वर्तमान में राजस्थान में सक्रिय मरीजों की संख्या 1.94 लाख है। इसके बावजूद अभी भी एक डर है और वह है संक्रमण। अगर जनता 17 मई तक के लॉकडाउन का अच्छे से पालन करें तो संक्रमण की दर भी तेजी से कम होने लगेगी। राजस्थान की वर्तमान में स्थिति चिंताजनक है। भारत का ओवरऑल रिकवरी रेट 81.80 प्रतिशत है, जबकि राजस्थान की रिकवरी रेट 69.40 प्रतिशत ही है। रिकवरी रेट के मामले में राजस्थान की रैंकिंग पूरे देश में नीचे से तीसरे स्थान पर है। लक्ष्यद्वीप में 60.20, उत्तराखण्ड में 68.30 प्रतिशत रिकवरी रेट के बाद राजस्थान का नंबर आता है। राजस्थान में पिछले एक सप्ताह से संक्रमण की दर 20 फीसदी के आस-पास बनी हुई है, जो बेहद खतरनाक है। सरकार ने भले ही लॉकडाउन लगा रखा हो, लेकिन इसके बाद भी लोग इसकी पालना अच्छे से नहीं कर रहे है। राजस्थान में अब एक भी जिला ऐसा नहीं है जहां नए कोरोना मरीजों की संख्या दहाई में हो। सभी जिले नए रोगियों के मामले में तीन अंकों तक पहुंच चुके हैं। इनमें भी जयपुर और जोधपुर सरीखे शहरों की हालत ज्यादा खराब हो रही है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को जयपुर 3110, अजमेर में 510, अलवर में 949, बांसवाड़ा में 121, बारां में 784, बाड़मेर में 289, भरतपुर में 148, भीलवाड़ा में 505, बीकानेर में 410, बूंदी में 148, चित्तौडग़ढ़ में 736, चूरू में 332, दौसा में 353, धौलपुर में 267, डूंगरपुर में 294, श्रीगंगानगर में 180, हनुमानगढ़ में 179, जैसलमेर में 294, जालोर में 166, झालावाड़ में 516, झुंझुनूं में 284, जोधपुर में 1867, करौली में 191, कोटा में 618, नागौर में 189, पाली में 814, प्रतापगढ़ में 267, राजसमंद में 410, सवाई माधोपुर में 294, सीकर में 528, सिरोही में 210, टोंक में 189 तथा उदयपुर में 822 नए संक्रमित मिले। प्रदेश में मंगलवार को जिन 154 संक्रमितों की मौत हुई उनमें सर्वाधिक 40 मरीज जयपुर जिले के रहे, जबकि जोधपुर जिले में 28 मरीजों की मृत्यु हुई। उदयपुर में बीस, सीकर में नौ, भीलवाड़ा तथा बीकानेर में 8-8, अजमेर में 6 संक्रमितों ने महामारी के आगे दम तोड़ दिया। अन्य जिलों में भी संक्रमण के कारण मरीजों की सांसें उखड़ी, पर उनकी संख्या इक्का-दुक्का ही रही। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप