ठंडी हवा के साथ आंधी में गायब हुई तपन, पश्चिमी राजस्थान में अच्छी वर्षा

ठंडी हवा के साथ आंधी में गायब हुई तपन, पश्चिमी राजस्थान में अच्छी वर्षा
the-heat-disappeared-in-the-storm-with-cold-wind-good-rain-in-western-rajasthan

जयपुर, 17 जून (हि.स.)। तेज गर्मी से तप रहे पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर में गुरुवार को राहत की बारिश हुई। इन जिलों में सुबह से बादल छाए रहे और उसके बाद तेज बारिश हुई। वहीं, पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर, अलवर, नागौर, सीकर क्षेत्र में तेज गर्मी और उमस ने लोगों के पसीने छुड़ा दिए। प्रदेश के बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर, पाली, जालोर क्षेत्र में गुरुवार सुबह से बादल छाए रहे। हवा कम चलने से कुछ समय तो उमस रही, लेकिन 11 बजे बाद आंधी चलनी शुरू हो गई और देखते ही देखते बारिश का दौर शुरू हो गया। बाड़मेर के शिव, चौहटन सहित कई जगहों पर तेज बारिश हुई। जैसलमेर जिले और उसके दूर-दराज के रेगिस्तानी इलाकों में भी तेज बारिश हुई, जिसके बाद कई जगह तो पानी की नदियां बहने लगी। जिले के सीमावर्ती रामगढ़ क्षेत्र में आसूतर मार्ग पर दस रीडमल माइनर (नहरी क्षेत्र) में बरसाती पानी बहने लगा। बीकानेर जिले में भी पाकिस्तान से लगते सीमावर्ती क्षेत्रों में अच्छी बारिश हुई। इन जिलों में तापमान 2-3 डिग्री तक नीचे आ गया। दक्षिण राजस्थान के कोटा, चित्तौडग़ढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, उदयपुर और सिरोही के कुछ हिस्सों में बादल छाए रहे। बांसवाड़ा में तडक़े तेज आंधी के साथ बारिश हुई। यहां सिंधी कॉलोनी में मकान के बाहर नीम के पेड़ की बड़ी शाखा टूटकर गिर गई, जिससे पेड़ के नीचे खड़ी कार का छत्त का हिस्सा टूट गया। वहीं तेज आंधी के कारण यहां कई जगह बिजली पोल भी गिर गए। मौसम विभाग ने पश्चिमी राजस्थान में 18 जून को 30-50 किलोमीटर गति से तेज हवाएं चलने की चेतावनी जारी की है। साथ ही उदयपुर, अजमेर संभाग के कई जिलों में बारिश होने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने राज्य में अगले 3-4 दिन अलग-अलग जगहों पर प्री-मानूसन की बारिश होने की भी संभावना जताई है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर