बिना परीक्षा दिए प्रमोट हुए स्टूडेंट्स को मिलेगी 2,500 रुपए की स्कॉलरशिप

बिना परीक्षा दिए प्रमोट हुए स्टूडेंट्स को मिलेगी 2,500 रुपए की स्कॉलरशिप
students-promoted-without-taking-the-exam-will-get-scholarship-of-rs-2500

जयपुर, 24 मार्च (हि. स.)। उच्च शिक्षा विभाग ने बुधवार को बिना परीक्षा दिए राजस्थान के कॉलेजों की अगली क्लास में प्रमोट हुए सभी छात्रों को स्कॉलरशिप देने का फैसला किया है। इस फैसले के तहत प्राप्तांक का आधार शैक्षणिक सत्र 2020-21 में दी परीक्षा में मिले अंकों को माना है। ऐसे सभी छात्रों को 2,500 रुपये दिए जाएंगे। कॉलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक ने बुधवार को इस संबंध में आदेश जारी किए। इससे पहले उच्च शिक्षा विभाग ने जनवरी में आदेश जारी कर प्रमोटी छात्रों को इस साल मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा छात्रवृत्ति योजना के तहत छात्रवृत्ति नहीं देने का निर्णय किया था। आदेशों में उन ऑनलाइन आवेदनों को स्वीकार करने से विभाग ने इनकार कर दिया था, जो छात्र बिना परीक्षा दिए प्रमोट हुए हैं। लेकिन, अब सरकार ने अपने इस फैसले को बदलते हुए एकमुश्त छात्रवृत्ति देने का निर्णय किया है। कोरोना महामारी के कारण स्नातक प्रथम वर्ष से द्वितीय वर्ष, स्नातक द्वितीय वर्ष से तृतीय वर्ष और स्नात्तकोत्तर प्रथम वर्ष से द्वितीय वर्ष में आए छात्रों की परीक्षाएं नहीं हुई थीं। इन छात्रों को प्रमोट किया गया था। राज्य सरकार मुख्यमंत्री छात्रवृत्ति योजना के तहत हर साल एक स्टूडेंट को 5 हजार रुपए तक की स्कॉलरशिप देती है। छात्रवृत्ति नहीं देने के उच्च शिक्षा विभाग के आदेशों का छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने विरोध किया था। संगठन छात्रों को स्कॉलरशिप दिलाने की मांग को लेकर लंबे समय से आंदोलन कर रहा था, जिसका आज परिणाम निकला है। सरकार के इस निर्णय से सैकड़ों छात्रों को लाभ मिलेगा। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप

अन्य खबरें

No stories found.