परशुराम जन्मोत्सव के अवसर पर सर्व ब्राह्मण महासभा के नाम बना विश्व रिकॉर्ड

परशुराम जन्मोत्सव के अवसर पर सर्व ब्राह्मण महासभा के नाम बना विश्व रिकॉर्ड
sarv-brahmin-mahasabha-named-world-record-on-the-occasion-of-parshuram39s-birth-anniversary

जयपुर,13 मई(हि.स.)। परशुराम जन्मोत्सव समारोह के अन्तर्गत आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला में सर्व ब्राह्मण महासभा के नाम विश्व रिकॉर्ड की लंदन से अधिकारिता घोषणा की गई। वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड के लंदन कार्यालय से सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश मिश्रा के नाम से अधिकारिता सर्टिफिकेट जारी किया गया। सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संदीप भातरा ने बताया कि सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश मिश्रा ने कोविड महामारी में विश्व कल्याण की भावना, आध्यात्मिक चेतना व जन-रक्षार्थ विश्व भर में फैले हुए भारतीय नागरिकों से घर-घर में हनुमान चालीसा व राम नाम का जप करने का आह्वान किया था। पंडित सुरेश मिश्रा के आह्वान पर लोगों ने जबरदस्त उत्साह दिखाते हुए सामूहिक रूप से अपने-अपने घरों में हनुमान चालीसा का पाठ किया व अपनी फोटो कार्यालय में प्रेषित की। उन सभी दस्तावेजों को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड के लंदन कार्यालय में भेजा गया। तत्पश्चात् दस्तावेजों की जांच के बाद सर्व ब्राह्मण महासभा व पंडित सुरेश मिश्रा के नाम वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट जारी किया गया। इस आयोजन को लेकर पिछले एक सप्ताह से युद्ध स्तर पर तैयारियां चल रही थी। सभी राष्ट्रीय स्तर, प्रादेशिक स्तर, जिला स्तर व वार्ड स्तर पर तैयारियां चल रही थी। तकनीकी रूप से कार्यक्रम की कमान सौम्यता मिश्रा ने गूगल मीट पर 50 से अधिक देशों के लोगो को तकनीकी रूप से जोडकर कार्यक्रम को सफल बनाया। संदीप भातरा ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. सुरेश मिश्रा के नाम पहले भी कई रिकॉर्ड दर्ज हो चुके है। कार्यक्रम में भाग लेने के लिए और कार्यक्रम को सफल बनाने के लिये पं. सुरेश मिश्रा ने सभी का हार्दिक धन्यवाद व्यक्त करते हुये कोविड महामारी में सभी सचेत व सतर्क रहने की अपील करते हुए घर पर रहते हुए आत्मिक बल के साथ आध्यात्मिक बल को बढ़ाने की भी अपील की है। शुक्रवार को भगवान परशुराम जन्मोत्सव के अवसर पर आयोजित मुख्य कार्यक्रम में प्रातः 9 बजे बनीपार्क कार्यालय पर भगवान परशुराम प्रतिमा का वैदिक मंत्रों के साथ पंचामृत, अभिषेक व पूजा अर्चना की जायेगी तथा वैदिक मंत्रों के साथ भगवान परशुराम की आरती की जाएगी साथ ही सभी लोगों से घर-घर पर भगवान परशुराम की पूजा अर्चना करने का आग्रह भी सभी से किया गया है तथा शाम को अपने अपने घरों पर 11-11 दीपक जलाकर कोरोना नियमों का पालन करते हुए परशुराम जयंती धुमधाम से मनाई जायेगी। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश / ईश्वर

अन्य खबरें

No stories found.