reconstruction-of-duties-of-zonal-manager-to-increase-revenue-in-roadways
reconstruction-of-duties-of-zonal-manager-to-increase-revenue-in-roadways
राजस्थान

रोडवेज में राजस्व बढ़ाने के लिए किया जोनल मैनेजर के कर्तव्यों का पुर्ननिर्धारण

news

जयपुर, 23 फरवरी (हि.स.)। रोडवेज प्रबंधन द्वारा डिपो व मुख्यालय के मध्य बेहतर समन्वय स्थापित करने के लिए जोनल मैनेजर के कर्तव्यों का पुर्ननिर्धारण किया गया है। रोडवेज के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक राजेश्वर सिंह ने बताया कि डिपो व मुख्यालय के मध्य बेहतर समन्वय स्थापित कर राजस्व में बढ़ोतरी करने के उद्देश्य से यह कवायद की गई है। राजस्व में बढ़ोतरी के लिए जोनल मैनेजर के यातायात, यांत्रिक, प्रशासन एवं वित्त से सम्बन्धित कर्तव्यों का पुर्ननिर्धारण किया गया है, जिसमें अधीनस्थ आगारों द्वारा संचालित बस को ईकाई मानकर परिचक्रवार अर्जित आय तथा व्यय का आंकलन करने, नए लाभप्रद मार्गों का सर्वेक्षण, राजस्व वृद्धि के नए उपाय, वाहन निरीक्षण, विशेष अवसरों पर अतिरिक्त वाहन संचालित करने तथा मुख्य प्रबंधक एवं विभिन्न प्रबन्धकों के मध्य समन्वय, सामंजस्य स्थापित कर टीम भावना से कार्य करने के लिए प्रेरित करना शामिल है। सिंह ने बताया कि जोनल मैनेजर को यांत्रिक से सम्बन्धित बसों के समयबद्ध रख-रखाव, डोकिंग कार्य, ऑफ रोड, ब्रेकडाउन, डीजल औसत में सुधार के लिए मॉनिटरिंग, दुर्घटनाओं में कमी के लिए चालकों से संवाद करने तथा बसों की साफ-सफाई, रंग-रोगन इत्यादि में आवश्यक सुधार तथा वित्त से सम्बन्धित सेवानिवृत कर्मचारियों के बकाया परिलाभों की मॉनिटरिंग लाभ-हानि का विश्लेषण कर आय में वृद्धि व व्यय में कमी के लिए प्रयास, बुकिंग कार्यालयों व बुकिंग एजेण्टों के टिकटों का भौतिक सत्यापन तथा अनुपयोगी सामान व नाकारा वाहनों की नीलामी के लिए आवश्यक कार्यवाही करना एवं माह में दो डिपो का आवश्यक रूप से निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करना कर्तव्यों में शामिल है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर

AD
AD