वंदे भारत मिशन के तहत शनिवार तक 16 हजार से अधिक प्रवासी राजस्थानी पहुंचे
वंदे भारत मिशन के तहत शनिवार तक 16 हजार से अधिक प्रवासी राजस्थानी पहुंचे
राजस्थान

वंदे भारत मिशन के तहत शनिवार तक 16 हजार से अधिक प्रवासी राजस्थानी पहुंचे

news

जयपुर, 19 जुलाई (हि.स.)। वंदे भारत मिशन के तहत 30 जुलाई तक विदेशों से 9 उड़ानों से प्रवासी राजस्थानी जयपुर आएंगे। वहीं 23 जुलाई तक चार चार्टर फ्लाइट्स की अनुमति भी दी गई है। अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि रविवार से 30 जुलाई तक 9 फ्लाइटों में कुवैत, शारजाह और बिश्केक से दो-दो और अबूधाबी, दुबई और मस्कट से एक-एक फ्लाइट वंदे भारत मिशन के तहत जयपुर आएगी। उन्होंने बताया कि 18 जुलाई तक जयपुर में 106 उड़ानों से 16 हजार से अधिक प्रवासी राजस्थानी जयपुर आ गए हैं। 19 जुलाई को पांच फ्लाइट जयपुर एयरपोर्ट पर पहुंची। विदेशों में फंसे प्रवासी राजस्थानियों को लेकर जयपुर एयरपोर्ट पर रविवार को पांच फ्लाइट उतरी। इनमंप दो उड़ाने किर्गिस्तान से, एक अबूधावी, एक आरकेटी और एक आरयूएस से जयपुर पहुंची। इनमें करीब 790 प्रवासी राजस्थानी जयपुर आए हैं। एसीएस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि विदेशों से प्रवासी राजस्थानियों की पहली फ्लाइट 22 मई को लंदन से 149 प्रवासी राजस्थानियों को लेकर आई थी। उन्होंने बताया कि 22 मई से वंदे भारत मिशन की उड़ानों के साथ ही चार्टर फ्लाइटों से भी प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचने का सिलसिला जारी हैं। जयपुर एयरपोर्ट पर हैल्थ प्रोटोकोल के अनुसार सभी व्यवस्थाएं चाकचोबंद कर रखी है और फ्लाइट के आने के समय अधिकारियों की टीम वहां आवश्यक व्यवस्थाओं में जुटी रहती है। उन्होंने बताया कि रविवार को जयपुर एयरपोर्ट पर पांच फ्लाइटों से प्रवासी राजस्थानी जयपुर पहुंचे। इन्हें संस्थागत एकांतवास के लिए जयपुर के साथ ही जयपुर व उदयपुर संभाग के जिलों व नागौर और चूरु में भी एकांतवास की व्यवस्था की जा रही है। इन संभागों के जिलों के प्रवासी राजस्थानियों को संस्थागत एकांतवास के लिए राजस्थान रोड़वेज की बसों से संबंधित जिलों में भिजवाया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in