राजस्थान सरकार केवल घोषणा न करे, लोगों को सुविधाएं भी दे : शेखावत

राजस्थान सरकार केवल घोषणा न करे, लोगों को सुविधाएं भी दे : शेखावत
rajasthan-government-should-not-only-announce-but-also-provide-facilities-to-the-people-shekhawat

जोधपुर, 22 मई (हि.स.)। ग्रामीण क्षेत्रों के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की खस्ता हालत पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान सरकार पर निशाना साधा है। शनिवार को नोख के स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने के बाद शेखावत ने कहा कि नोख की सीएचसी में सामान्य सुविधाएं तक नहीं हैं। कोरोना आपदा को एक साल बीत गया, लेकिन यहां सीपीसी एनालाइजर तक नहीं है। राजस्थान सरकार और उसके काबिना मंत्री इस विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। मुझे लगता है कि उन्हें इस विषय पर विचार करना चाहिए। केवल घोषणाएं करके वो लोगों को सुविधाएं प्रदान नहीं कर पाएंगे। प्राथमिक रूप से पीएचसी को बनाना, अपग्रेड करना और चलाना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। केंद्रीय मंत्री शेखावत ने पोकरण विधानसभा क्षेत्र के नोख और नाचना में स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने चिकित्सा सुविधा को परखा और फील्ड सर्वे पर फोकस करने के निर्देश दिए। नोख में शेखावत ने कहा कि कोरोना आपदा में अनुभव किया गया कि ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्रों को अपडेट करने की आवश्यकता है, ताकि शहरों पर दबाव कम हो और लोगों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर उचित चिकित्सा का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि हमने संकल्प लिया है कि हर पीएचसी में कम से कम एक ऐसा सुविधा केंद्र बने, जहां 10-15 मरीजों का इस तरह की आपदा के समय उपचार किया जा सके, जहां सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हों। शेखावत ने कहा कि यह सारा काम जनसहयोग और भामाशाहों के सहयोग से पूरा करने का प्रयास होगा। नोख स्वास्थ्य केंद्र में शेखावत ने चिकित्साधिकारी और अधिकारियों के साथ विशेष रूप से कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए वार्ड को देखा। उन्होंने होम आइसोलेशन के मरीजों की सही तरीके से मॉनिटरिंग के निर्देश दिए। उन्होंने केंद्र को अत्याधुनिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन भी दी। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, नाचना में शेखावत ने कोरोना संक्रमित मरीजों के स्टेटस रिपोर्ट मांगी। यहां आईआरएल सर्वे और होम आइसोलेशन की मॉनिटरिंग को लेकर चिकिसक सही जानकारी नहीं दे सके। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश