पशुपालन के क्षेत्र में नवाचार एवं उद्यमिता की विपुल संभावनाएं- प्रो. शर्मा
पशुपालन के क्षेत्र में नवाचार एवं उद्यमिता की विपुल संभावनाएं- प्रो. शर्मा
राजस्थान

पशुपालन के क्षेत्र में नवाचार एवं उद्यमिता की विपुल संभावनाएं- प्रो. शर्मा

news

बीकानेर, 17 जुलाई (हि.स.)। वेटरनरी विश्वविद्यालय के पशुधन नवाचार, ज्ञान और उद्यमिता कौशल केन्द्र, नवानियां, उदयपुर द्वारा स्टार्टअप उद्यमिता विषय पर एक राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन शुक्रवार को किया गया। वेबिनार को संबोधित करते हुए वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विष्णु शर्मा ने पशुचिकित्सा विद्यार्थियों और संकाय सदस्यों को वर्तमान परिप्रेक्ष्य में उद्यमिता के महत्व के बारे में बताया। कुलपति प्रो. शर्मा ने बताया कि तीनो संघटक महाविद्यालयों में इस प्रकार के उद्यमिता केन्द्र प्रारंभ करने वाला देश का अग्रणी वेटरनरी विश्वविद्यालय हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को अपने ज्ञान के आधार पर नवाचार को विकसित करना चाहिए तथा अपने ज्ञान एवं नवाचार में कुशलता प्राप्त कर स्वयं का उद्यम प्रारंभ करने की दिशा में कार्य करना चाहिए। कार्यक्रम में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद्, नई दिल्ली के राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा नवाचार परियोजना के राष्ट्रीय समन्वयक डॉ. आर.बी. शर्मा ने विश्व बैंक के माध्यम से संचालित राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा नवाचार परियोजना के बारे में जानकारी दी। राष्ट्रीय वेबिनार के वक्ता राजकुमार जोशी, वाईस प्रेसीडेन्ट, अबेलॉन क्लीन एनर्जी लिमिटेड एवं निदेशक रेड ब्रिक्स फाउण्डेशन, अहमदाबाद ने स्टार्टअप उद्यमिता एवं इनक्यूबेटर इकोसिस्टम विषय पर अपना ऑनलाइन प्रस्तुतिकरण दिया। वेबिनार में पशुचिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, जयपुर की अधिष्ठाता प्रो. (डॉ.) संजीता शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त किये। वेबिनार के आयोजक सचिव डॉ. शिव कुमार शर्मा ने बताया कि इस राष्ट्रीय वेबिनार में 664 प्रतिभागियों ने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से पंजीकरण कराया। यह राष्ट्रीय वेबिनार वेटरनरी कॉलेज, नवानियां, उदयपुर द्वारा आयोजित प्रथम ऑनलाइन राष्ट्रीय वेबिनार हैं, जिसे विश्वविद्यालय के आईयूएमएस प्रकोष्ठ के सहयोग से आयोजित किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in