Our Mount Abu colder than Shimla-Mussoorie, Rajasthan trembles due to severe winter
Our Mount Abu colder than Shimla-Mussoorie, Rajasthan trembles due to severe winter
राजस्थान

शिमला-मसूरी से भी ठंडा हमारा माउंट आबू, कड़ाके की सर्दी से पूरा राजस्थान कांपा

news

जयपुर, 29 दिसम्बर (हि.स.)। मौसम विभाग की चेतावनी के अनुरूप उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी के असर से पूरा राजस्थान कड़ाके की सर्दी से कांप उठा है। सर्दी का आलम यह है कि देश के 6 हिल स्टेशनों में शामिल हमारा माउंट आबू शिमला-मसूरी से ठंडा हो गया है। बीती रात सर्दी ने अपने तीखे तेवर दिखाए और माउंट आबू, फतेहपुर, चूरू, सीकर और जयपुर के जोबनेर में पारा माइनस में पहुंच गया। इससे इन इलाकों में मंगलवार सवेरे खुले पड़े बर्तनों में रखा पानी बर्फ में तब्दील हो गया। झुंझुनूं के पिलानी, भीलवाड़ा, चित्तौडग़ढ़ सहित आस-पास के इलाकों में भी पारा जमाव बिंदु के नजदीक एक डिग्री तक आ गया। मौसम विभाग के अनुसार बीती रात राजस्थान में बाड़मेर जिले को छोडक़र पूरे प्रदेश में सभी जगहों पर पारा 6 डिग्री से नीचे ही रहा। सबसे ज्यादा सर्द इलाका माउंट आबू -4 डिग्री रहा। इसके बाद फतेहपुर शेखावाटी -3.2 डिग्री सेल्सियस। जयपुर के जोबनेर में भी पारा -1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। रात ही नहीं अब दिन में भी लोगों को सर्दी से कोई खास राहत नहीं मिल रही है। उत्तरी राजस्थान में तो दिन का अधिकतम तापमान भी 21 से लेकर 19 डिग्री के बीच पहुंच गया हैं। दिन में तेज धूप निकलने के बाद भी गलन से कोई खास राहत नहीं मिली। मौसम विभाग ने 31 दिसंबर तक उत्तर-पूर्वी राजस्थान के जयपुर, भरतपुर, बीकानेर, अजमेर और कोटा संभाग के करीब एक दर्जन जिलों में तेज सर्दी की चेतावनी जारी की हैं। शेखावाटी क्षेत्र चूरू, झुंझुनूं, सीकर और श्रीगंगानगर, बीकानेर, हनुमानगढ़ इलाके में तेज शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया गया हैं। बीती रात माउंट आबू में -4, फतेहपुर में -3.2, जयपुर के जोबनेर में -1.8, सीकर में -0.5, चूरू में -0.4, भीलवाड़ा में 0.9, झुंझुनूं के पिलानी में 0.9, चित्तौडग़ढ़ में 1.7, उदयपुर में 2.4, श्रीगंगानगर में 3.1, टोंक के वनस्थली में 3.4, अजमेर में 4, कोटा में 4, बीकानेर में 4.3, जैसलमेर में 4.5, अलवर में 4.8, बूंदी में 5.2, सवाई माधोपुर में 5.4, जयपुर में 5.6, जोधपुर में 5.7 तथा बाड़मेर में 7.6 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। प्रदेश के एकमात्र पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में सोमवार की रात और मंगलवार की सुबह इस सीजन की सबसे सर्द रही। यहां न्यूनतम तापमान सोमवार की तुलना में दो डिग्री लुढक़ा और मंगलवार का न्यूनतम तापमान माइनस में 4 डिग्री दर्ज किया गया। पारे में हुई गिरावट के बाद माउंट आबू में कई जगह बर्फ जम गई। मंगलवार को सबसे सर्द सुबह होने के कारण माउंट आबू के पोलो ग्राउंड में घास पर ओस की बूंदे जम गई, होटलों और घरों के बाहर रखी कारों की छत पर बर्फ की परत जम गई, खेतों में चारों और सुबह-सुबह बर्फ ही नजर आईं। खेतों में बिछाई हुई पानी की पाईपलाइन पूरी तरीके से जम गई। सिर्फ माउंट आबू ही नहीं, प्रदेश के विभिन्न शहरों में तापमान के जमाव बिन्दु के निकट पहुंच जाने के कारण मंगलवार की सुबह खुले इलाकों में बर्फ की परत जमी रही। 9 बजे बाद तेज धूप खिलने से लोगों को सर्द हवा व गलन से आंशिक राहत मिली। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर-hindusthansamachar.in