जर्जर कुएं में 200 फीट की ऊंचाई से गिरने से वृद्ध का सिर फटा, मौत

जर्जर कुएं में 200 फीट की ऊंचाई से गिरने से वृद्ध का सिर फटा, मौत
old-man39s-head-exploded-after-falling-from-a-height-of-200-feet-in-a-dilapidated-well-death

पाली, 07 जून (हि.स.)। सोजत थाना क्षेत्र के माली बेरा रेतिया में सोमवार सुबह कुएं में मोटर उतारने के दौरान अचानक रस्सा टूटने से 200 फीट गहरे कुएं में गिरे वृद्ध का शव चार घंटे की मशक्कत के बाद निकाला जा सका। 200 फीट गहरे कुएं में ऊंचाई से गिरने से मृतक का सिर फट गया तथ हाथ-पांव टूट गए। पुलिस ने मृतक का शव अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। पुलिस के अनुसार सोजत सिटी के निकट माली बेरा रेतिया में सुबह करीब नौ बजे 70 वर्षीय केवलराम पुत्र पुखाराम माली रस्से के सहारे मोटर कुएं में उतार रहे थे। इस दौरान अचानक रस्सा टूट गया जिससे उनका भी संतुलन बिगड़ा और वे सीधे कुएं में गिर गए। चीखने की आवाज सुन परिजन व आस-पास के लोग मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक वृद्ध कुएं में डूब चुके थे। सूचना मिलने पर सोजत पुलिस भी मौके पर पहुंची। ग्रामीणों के अनुसार करीब 20 वर्ष पूर्व इसी कुएं में हादसे के दौरान गिरने से शंकरलाल माली की मौत हो गई थी। अब सोमवार को केवलराम कुएं में मोटर उतारने के दौरान रस्सा टूटने से कुएं में गिरकर डूब गए। पुलिस ने क्रेन के सहारे उनकी तलाश में लोगों को उतारा। गांव के राजू वाल्मीकि व ओमप्रकाश सीरवी क्रेन के जरिए वृद्ध की तलाश में कुएं में उतरे लेकिन कुआं गहरा होने के कारण वे पानी तक नहीं पहुंच सके। ऐसे में उन्हें वापस निकाल कर दूसरी लम्बी क्रेन मौके पर मंगवाई गई। इस दौरान मास्टर गणपत व घनश्याम वाल्मीकि कुएं के बाहर खड़े रहे। चारों ने मिलकर वृद्ध का शव कुएं से निकलवाया। हादसे की जानकारी मिलते ही आस-पास रहने वाले लोग मौके पर एकत्रित हो गए। जिन्हें पुलिस ने सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए दूर-दूर खड़े रहने की हिदायत दी। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप