नृसिंह चतुर्दशी 25 मई को, घरों में ही मनाई जाएगी

नृसिंह चतुर्दशी 25 मई को, घरों में ही मनाई जाएगी
narsingh-chaturdashi-will-be-celebrated-in-homes-on-25-may

जोधपुर, 22 मई (हि.स.)। भगवान विष्णु के अवतार नृसिंह का प्राकट्य दिवस नृसिंह चतुर्दशी 25 मई को मनाई जाएगी। शहर में स्थित नृसिंह मंदिरों में अभिषेक, पूजन और आरती के आयोजन कोरोना गाइड लाइन की पालना में होंगे। नृसिंह चतुर्दशी को लेकर शहर में जालोरी बारी स्थित नृसिंग दड़ा मंदिर, बनावतों का बास स्थित श्री नृर्सिंग जी मंदिर आदि मंदिरों में रंग रोगन के साथ विभिन्न तैयारियों को शुरू कर दिया गया है। कोरोना महामारी के कारण मंदिर परिसर में ही प्रतीकात्मक रूप से कोरोना एडवाइजरी के तहत नृसिंह जयंती मनाने की तैयारियां की जा रही है। नृृसिंह जयंती पर भगवान नृसिंह का पंचामृत से अभिषेक, पूजन, श्रृंगार कर महाआरती की जाएगी। निज मंदिरों को विभिन्न प्रकार के पुष्पों और रंग बिरंगी रोशनियों से सजाया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण लोग घरों में ही नृसिंह जयंती मनाएंगे। व्रत-पूजन कर भगवान नृसिंह की आरती करेंगे। मंदिर परिसर में ही अवतार लीला दर्शन और आरती का आयोजन होगा। वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि के दिन भगवान विष्णु ने नृसिंह अवतार धारण किया था। इसलिए इस दिन नृसिंह जयंती मनाई जाती है। भगवान नृसिंह को शक्ति, पराक्रम तथा शत्रुओं के नाशक के रूप में जाना जाता है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश / ईश्वर

अन्य खबरें

No stories found.