झुंझुनू के मोहसीन खान जम्मू कश्मीर में शहीद
झुंझुनू के मोहसीन खान जम्मू कश्मीर में शहीद
राजस्थान

झुंझुनू के मोहसीन खान जम्मू कश्मीर में शहीद

news

झुंझुनू, 01अगस्त (हि.स.)। देश की सेवा में अपनी एक अलग ही पहचान रखने वाले वीर भूमि झुंझुनू जिले का एक और जांबाज लाडला देश सेवा करते समय वीरगति को प्राप्त हो गया है। 16 ग्रेनिडियर में कार्यरत मोहसिन खान जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में अपनी ड्यूटी करते समय पाकिस्तान की ओर से सीज फायर के उल्लंघन के बाद हुई मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हो गए। शहीद मोहसीन खान एक माह पूर्व ही अपने गांव में छुट्टी बिताकर अपनी ड्यूटी पर गये थे। शहीद के परिजनों के अनुसार मोहसीन खान अविवाहित था जिसका रिश्ता कुछ दिन पूर्व ही तय हुआ था। शहीद होने की सूचना मिलते ही शहीद के घर में कोहराम मच गया। चार भाई बहनो में मोहसीन खान सबसे छोटा सदस्य था। शहीद के पिता सरवर अली खान भी सेना के सूबेदार के पद से सेवानिवृत हुए थे। वही उनके परिवार में 12 सदस्यो में से चाचा और ताऊ भी सेना में अपनी सेवाए दे चुके है। वही एक छोटा भाई सेना में जॉइनिंग के इंतजार में है, लेकिन कोरोना के चलते उनकी जॉइनिंग नहीं हुई है। शहीद मोहसीन ने सितम्बर 2017 में जबलपुर में सेन की ट्रेनिंग की थी। फिर पठान कोट में ड्यूटी करने के बाद वर्तमान में जम्मू कश्मीर के नौशेरा में तैनात था। शहीद मोहसीन की पार्थिव देह शनिवार शाम को कोलिण्डा गांव उनके निवास पर पहुंचा जहां सेना की टुकड़ी द्वारा गार्ड आफ आनर दिया गया। काफी संख्या में युवाओं ने देशभक्ति के नारे लगाए और भारत माता के जयकारो के साथ कब्रिस्तान पहुंचने के पश्चात शहीद को सलामी दी। सांसद नरेन्द्र खीचड़, सेना के जवानो ने पुष्प चक्र अर्पित किये। तिरंगे झंडे को शहीद के पिता सूबेदार सरवर अली खान को सौपा गया। कब्रिस्तान में नमाज अदा कर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद की पार्थिव देह को सुपुर्द ए खाक किया गया। हिन्दुस्थान समाचार / रमेश सर्राफ/ ईश्वर-hindusthansamachar.in