Makar Sankranti celebrated the festival of charity, holy bathing in holy ponds
Makar Sankranti celebrated the festival of charity, holy bathing in holy ponds
राजस्थान

दान पुण्य का पर्व मकर संक्रांति उल्लसपूर्वक मनाया, पवित्र सरोवरों में स्नान

news

जोधपुर, 14 जनवरी (हि.स.)। सूर्यदेव के गुरुवार को मकर राशि में प्रवेश के साथ उत्तरायण हो गए। आज ही देशभर में उल्लास से मनाया जाने वाला पर्व मकर संक्रांति पर कई जगहों पर दानपुण्य हुआ तो दूसरी तरफ श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवरों में अलसुबह स्नान कर सूर्यदेव को अघ्र्य देकर मनोवांछित कामना की। आज से ऋतु परिवर्तन भी हो गया है। इसके साथ ही अब सर्दी की ऋतु रूखसत की तरफ मानी जाती है। जोधपुर शहर सहित मारवाड़ में भी आज जमकर दानपुण्य हुआ। अलसुबह से ही लोगों ने जल्दी उठकर पवित्र जलाशयों में स्नान कर भगवान सूर्यदेव का अघ्र्य दिया। फिर मंदिरों में ठाकुरजी के दर्शन करने के साथ दान पुण्य किया गया। गौशालाओं में गायों को लापसी तो हरा चारा भी खिलाया। दानपुण्य के प्रतीत इस पर्व के साथ आज मळमास भी समाप्त हो गया। आज से ही अब मांगलिक कार्यों का आरंभ हो गया है। जोकि फरवरी तक बना रहेगा। मार्च में फाल्गुन का डंडा रोपण के बाद फिर मांगलिक कार्यों पर विराम लगेगा। सूर्यदेव अपने गुरू मित्र वृहस्पति की राशि छोडक़र आज सुबह मकर राशि में प्रवेश कर गए है। जोधपुर शहर में सुबह से ही घरों में मकर संक्रांति का उल्लास देखा गया। कईयों ने मकर संक्रांति पर तेल जलाने की पंरपंरा का कायम रखते हुए पकवान बनाए। मंदिरों व घरों के बाहर लगा मांगने वाला का तांता: सुबह से ही मंदिरों में श्रद्धालुओं के पहुंचने के साथ ही मांगने वालों का भी तांता लग गया। वहीं घरों पर भी मांगने वाले पहुंचने लगे। श्रद्धालुओं ने अपनी इच्छानुसार दान कर इस पवित्र का पुण्य कमाया। मळमास खत्म अब मांगलिक आयोजन: गुरूवार की सुबह सूर्यदेव के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही मळमास की खत्म हो गया। अब शहरों में मांगलिक कार्यक्र मों का आयोजन भी होगा। कईयों ने अपने प्रतिष्ठानों की नींव भी आज रखी है। कई जगहों पर उद्घाटन आदि समारोह देखने को मिले है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in