कोराना महामारी:अबतक निगम ने 213 दुकानें-प्रतिष्ठान सील कर की साढ़े 10 हजार लोगों पर कार्रवाई

कोराना महामारी:अबतक निगम ने 213 दुकानें-प्रतिष्ठान सील कर की साढ़े 10 हजार लोगों पर कार्रवाई
korana-epidemic-till-now-the-corporation-sealed-213-shops-establishments-and-acted-on-10-and-a-half-thousand-people

जयपुर, 04 मई(हि.स.)। कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है,लेकिन फिर भी जनता बेखौफ नजर आ रही है। जिला प्रशासन-नगर निगम की 'सख्ती' बेअसर साबित होती नजर आ रही है। कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं करने पर अप्रेल माह में ही जयपुर ग्रेटर व हेरिटेज नगर निगम ने 10 हजार 591 लोगों पर कार्रवाई की है और साथ ही चालान काट 31 लाख 76 हजार रुपए वसूल किए। वहीं 213 दुकानें-प्रतिष्ठान सील तक कर दिए। फिर भी जनता मास्क व सोशल डिस्टेसिंग की आदत नहीं डाल पा रही है। हेरिटेज नगर निगम महापौर मुनेश गुर्जर ने बताया कि हेरिटेज नगर निगम ने कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं करने पर जन अनुशासन पखवाड़े के बीच अप्रेल माह में ही 8 हजार 231 लोगों पर कार्रवाई की। इन लोगों के चालान कर निगम ने करीब 21 लाख, 91 हजार 440 रुपए वसूल किए। वहीं 184 दुकानों-प्रतिष्ठानों को सील कर दिया। दो विवाह स्थल भी सील किए। हेरिटेज नगर निगम ने कोरोना गाइड लाइन के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए 83 रैलियां भी निकाली। 86 टीमें गठित कर शहर में जगह-जगह बैनर-पोस्टर लगा लोगों को जागरूक भी किया। कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंसिंग की पालना का आग्रह करते शहर में 1638 जगहों पर बैनर-पोस्टर भी लगाए। जन अनुशासन पखवाड़े में 32 हजार मास्क और 31 हजार 600 पंपलेट्स भी बांटे गए। अप्रेल माह की बात करें तो हेरिटेज निगम ने ही 1.75 लाख पंपलेट्स एक माह में बांट दिए। पार्षदों, सफाई कर्मियों के माध्यम से 2 लाख मास्क बंटवाए। जयपुर ग्रेटर महापौर डॉ. सौम्या गुर्जर ने बताया कि जयपुर ग्रेटर नगर निगम ने कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं करने पर 9 लाख 84 हजार 700 रुपए जुर्माना वसूल किया। अप्रेल माह में 2360 लोगों पर कार्रवाई, इनसे 6 लाख, 30 हजार 500 रुपए वसूल भी किए। वहीं 29 दुकानें व प्रतिष्ठानों को सील किया, 48 विवाह स्थलों पर कार्रवाई की गई। लोगों को कोरोना गाइडलाइन की पालना के लिए समझाइश की गई। मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाई गई। भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी कार्रवाई की गई। वहीं घरों में आइसोलेट मरीजों के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और सिलेंडर की खरीदे जा रहे है। इसके लिए एक कमेटी का गठन कर दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/संदीप