बादलों की आवाजाही के बीच जैसलमेर व जयपुर में बूंदाबांदी ने बढ़ाई उमस
बादलों की आवाजाही के बीच जैसलमेर व जयपुर में बूंदाबांदी ने बढ़ाई उमस

बादलों की आवाजाही के बीच जैसलमेर व जयपुर में बूंदाबांदी ने बढ़ाई उमस

जयपुर, 16 जुलाई (हि. स.)। दक्षिणी पश्चिमी मानसून की बाट जोह रहे राजस्थान में गुरुवार को दिन भी सूखा बीता। सांझ ढलते-ढलते राजधानी जयपुर और जैसलमेर में काली घटाओं ने बूंदाबांदी कर उमस में इजाफा कर दिया। राज्य में कुछ स्थानों पर भी मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश रिकॉर्ड की गई। बीते 24 घंटों में पूर्वी राजस्थान में एक-दो स्थानों पर अच्छी बारिश हुई। सबसे अधिक बरसात चित्तौडग़ढ़ की बड़ी सादड़ी में 71 मिमी रिकॉर्ड की गई। जबकि, पश्चिमी राजस्थान सूखा रहा। राजधानी जयपुर में गुरुवार को गर्मी और उमस ने तीखे तेवर दिखाए। दिनभर लोग उमस से बेहाल रहे। शाम करीब चार बजे मौसम बदला और अचानक आसमान बादलों से अट गया। इसके बाद तेज बारिश शुरू हो गई। बारिश की रफ्तार से आमजन ने उम्मीदें बांधी थी, लेकिन लगभग 15 मिनट की बारिश के बाद उमस ज्यादा बढ़ गई। इससे पहले से गर्मी से तप रहे लोगों की परेशानी बढ़ गई। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार पूर्वोत्तर इलाकों में बन रहे उच्च वायुदाब क्षेत्र के असर से अगले तीन-चार दिन में प्रदेश के कई इलाकों में अच्छी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने 17 जुलाई को उदयपुर व राजसमंद जिलों में एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा की चेतावनी दी है। 18 जुलाई को बारां, झालावाड़, कोटा व बूंदी जिलों में एक-दो स्थानों पर बारिश का ऑरेंज अलर्ट दिया गया है। प्रदेश में गुरुवार को अजमेर में 37, जयपुर में 37.9, कोटा में 34.4, डबोक में 34.6, बाड़मेर में 40.8, जैसलमेर में 42, जोधपुर में 42.1, बीकानेर में 43.3, चूरू में 39.5, श्रीगंगानगर में 39.6 डिग्री अधिकतम तापमान दर्ज किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप-hindusthansamachar.in