कछुआ गैंग का फरार चल रहा एक बदमाश गिरफ्तार

कछुआ गैंग का फरार चल रहा एक बदमाश गिरफ्तार
a-crook-running-away-from-the-tortoise-gang-arrested

जयपुर, 22 जुलाई (हि.स.)। जयपुर ग्रामीण जिले के कालाडेरा थाना पुलिस ने चमत्कारिक कछुआ और रुपये दुगने करने का झांसा देकर लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाले शातिर कछुआ गैंग का फरार चल रहे एक बदमाश को गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।

जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि चमत्कारी कछुआ बता कर लाखों रुपये की ठगी करने वाले शातिर कछुआ गैंग दो बदमाश मुखराम उर्फ बाबू बावरिया(22) निवासी मुण्डोता कालवाड को गिरफ्तार किया है। जो पिछले डेढ माह से फरार चल रहा था। जिसे मुखबिर की सूचना और मोबाइल की सीडीआर के आधार पर धर दबोचा है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है पूछताछ में अन्य कई वारदाते खुलने की आशंका जताई जा रही है।

इससे पूर्व इस गैंग के दो अन्य बदमाश विजय बावरिया उर्फ दीपू उर्फ उन्नू उर्फ पोल्यो (19)और विनय यादव उर्फ बाबू यादव(20) पहले ही गिरफ्तार हो चुके है।

थानाधिकारी हरबेन्द्र सिंह (एसआई) ने बताया कि आरोपित मुखराम उर्फ बाबू बावरिया ने पूछताछ में फुलेरा, जोबनेर,कालवाड चौमूं सहित अन्य थाना इलाकों के भोले-भाले लोगों को चमत्कारिक कछुआ और रुपये दुगने करने की बता कर ठगी करने की वारदाते कबूली है। इस कछुआ गैंग का सरगना विजय बावरिया उर्फ दीपू उर्फ उन्नू उर्फ पोल्यो बावरिया है जो कछुआ कम पैसे में खरीद कर मोटी रकम में बेचकर व्यक्तियों को धन दुगना करने का लालच देता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ दिनेश/संदीप