चक्रवाती तूफान की आशंका को देखते हुए सभी जिला कलेक्टर को चौकस रहने के निर्देश

 चक्रवाती तूफान की आशंका को देखते हुए सभी जिला कलेक्टर को चौकस रहने के निर्देश
instructions-to-all-district-collectors-to-be-vigilant-in-view-of-the-possibility-of-cyclonic-storm

जयपुर, 17 मई(हि.स.)। मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने रविवार को वीसी के माध्यम से सभी जिला कलेक्टर को चक्रवाती तूफान की आशंका को देखते हुए चौकस रहने एवं सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी जिला कलेक्टर पुलिस अधीक्षक के साथ मिलकर सीएमएचओ और सिविल डिफेंस के अधिकारियों के साथ कंटन्जेंसी प्लान बनाये ताकि कोरोना मैनेजमेंट सुनिश्चित होने के साथ ही लोगों को किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्होंने निर्देश दिए कि चक्रवाती तूफान को देखते हुए सभी जिलों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए ताकि आपात स्थिति में किसी तरह की परेशानी ना हो। उन्होंने ऑक्सीजन की आपूर्ति और भंडारण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए ताकि एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल तक पहुंचने में किसी प्रकार की दिक्कत का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की आपात स्थिति मे आवागमन अवरुद्ध होता है तो मेडिकल सप्लाई चैन को तत्काल दुरुस्त किया जाए। उन्होंनेे कहा कि जरूरत पड़ने पर रेस्टोरेशन का काम तत्काल आरंभ किया जाए और नागरिकों को एक शहर से दूसरे शहर तक लोगों को पहुंचाने के लिए पुलिस, नगरीय निकाय, सार्वजनिक निर्माण विभाग और सिविल डिफेंस के अधिकारियों के साथ मिलकर कार्ययोजना बनाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पतालों में डीजल जनरेटर सेट की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए ताकि बिजली की आपूर्ति में व्यवधान आने से मरीजों व आम लोगों को किसी तरह की परेशानी न आए। उन्होंने चक्रवर्ती तूफान को ध्यान में रखते हुए विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के आवश्यक निर्देश भी दिए ताकि निर्बाध रूप से अस्पताल एवं अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर विद्युत आपूर्ति जारी रह सके। इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक एम एल लाठर, प्रमुख शासन सचिव वित्त अखिल अरोड़ा, सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सिद्धार्थ महाजन एवं विद्युत, पुलिस, सार्वजनिक निर्माण विभाग एवं नगरीय निकाय के अधिकारी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप/ ईश्वर