If Fastag is not installed on the vehicle, then toll will have to be doubled
If Fastag is not installed on the vehicle, then toll will have to be doubled
राजस्थान

वाहन पर फास्टैग नहीं लगवाया तो नाकों पर चुकाना होगा दुगुना टोल

news

जयपुर, 29 दिसम्बर (हि.स.)। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया की पूर्व घोषणा के अनुरूप 1 जनवरी से राजस्थान के सभी टोल प्लाजा कैशलेस हो जाएंगे। यानी, इन टोल प्लाजा पर कैशलेन बंद कर दी जाएगी। यहां से केवल फास्टैग वाले वाहन ही निकल सकेंगे। ऐसे में यदि किसी वाहन पर फास्टैग नहीं है और वह कैश लाइन से निकलता है तो उससे दुगुना चार्ज वसूला जाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधीन राजस्थान में 89 टोल नाके हैं। इन टोल नाकों से रोजाना 6 लाख 15 हजार 758 वाहन गुजरते हैं। इनमें से 75.77 फीसदी 4.30 लाख वाहन ही फास्टैगयुक्त हैं। जबकि 1.5 लाख वाहन ऐसे हैं, जिनमें अब तक फास्टैग नहीं लग पाया है। टोल नाकों से रोजाना 1 लाख 54 हजार 56 वाहन कैशलेन से गुजरते हैं। सभी टोल नाकों पर रोजाना 10 करोड़ 26 लाख 49 हजार 557 रुपये कलेक्शन हो रहा हैं। करीब 1000 वाहन ई-भुगतान कर रहे हैं। अभी भी प्रदेश में 25 फीसदी वाहन बिना फास्टैग कैशलेन से निकल रहे हैं। ऐसे में 1 जनवरी से नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से कैशलेन को बंद करने से इन वाहनों के मालिकों के सामने दुगुने चार्ज अदा करने का संकट खड़ा हो जाएगा। यह बात अलग है कि जिन 74 फीसदी वाहनों पर फास्टैग लग गया हैं, उनकी वजह से अब टोल नाकों की फास्टैग लेन पर वाहनों का भार बढऩे लग गया है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर-hindusthansamachar.in