हाईकोर्ट ने त्वरित सुनवाई के दिये आदेश

हाईकोर्ट ने त्वरित सुनवाई के दिये आदेश
high-court-ordered-for-speedy-hearing

झुंझुनू, 07 अप्रैल (हि.स.)। राजस्थान हाईकोर्ट ने झुंझुनू जिले की लोटिया ग्राम पंचायत में आंगनबाड़ी सहायिका पद पर चयन करने के मामले में हुए पक्षपात को लेकर दायर याचिका में जांच करने व योग्यता के आधार पर नियुक्ति दिए जाने की मांग के मामले में जिला कलेक्टर को मामले की उचित रूप से सुनवाई करने व एक माह में निर्णय लेने के आदेश दिए हैं। मामले के अनुसार विनोद देवी ने एडवोकेट संजय महला के जरिये रिट याचिका दायर कर बताया कि उसने लोटिया (सूरजगढ़) में आंगनबाड़ी सहायिका पद के लिए वांछित योग्यता होते हुए आवेदन किया था किंतु सम्बंधित अधिकारियों ने चयन प्रक्रिया में पारदर्शिता नहीं अपनाकर अन्य का गलत चयन कर लिया है। जिसे निरस्त किया जावे व प्रार्थी को नियुक्ति दी जावे। बहस में एडवोकेट संजय महला ने कहा कि प्रार्थी ने इस संबंध में हुई धांधली बाबत अपनी आपत्ति चार जनवरी को जिला कलेक्टर को दर्ज दर्ज करवा दी थी। किंतु अभी तक उसे कोई राहत नही मिली। मामले की सुनवाई के बाद न्यायाधीश संजीव प्रकाश शर्मा ने जिला कलेक्टर को प्रकरण में दिनों पक्षो की उचित सुनवाई कर एक माह में आदेश पारित करने के निर्देश दिए है। हिन्दुस्थान समाचार / रमेश सर्राफ / ईश्वर