गायत्री परिवार जयपुर ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए बढ़ाए कदम

गायत्री परिवार जयपुर ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए बढ़ाए कदम
gayatri-parivar-jaipur-steps-up-to-help-corona-victims

जयपुर, 04 मई (हि.स.)। गायत्री परिवार की स्थापना पंडित श्रीराम जी शर्मा द्वारा गायत्री मंत्रों के उच्चारण एवं यज्ञ के माध्यम से समाज में सुविचारों की वृद्धि और मानव कल्याण के लिए की थी। परंतु आज कोरोना महामारी के कारण जनजीवन जिस तरह से अस्त-व्यस्त हुआ है उसे देखते हुए गायत्री परिवार जयपुर ने भी अपने कार्यक्रमों में भारी बदलाव किया है। गायत्री परिवार जयपुर के समन्वयक ओपी अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान कोरोना महामारी को देखते हुए उन्होंने अपनी विभिन्न गतिविधियों को ऑनलाइन शुरू किया है। प्रतिदिन सुबह 8 बजे से 9:30 बजे तक ऑनलाइन यज्ञ का आयोजनकियाजाताहै, जिसमें विभिन्न परिवार घरों से ही इसमें शामिल होते हैं। इसके अलावा प्राणायाम पर विशेष सेशन का आयोजन किया जाता है, जिसमें विभिन्न आसनों के माध्यम से स्वस्थ रहने के उपाय बताए जाते हैं। इसके अलावा महामारी के कारण समाज में फैल रही निराशा को दूर करने के लिए प्रेरणात्मक उद्बोधन दिए जाते हैं। इसके अलावा बच्चों में निराशा को दूर करने के लिए दोपहर 2 बजे से 3 बजे तक संगीत कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है, जिसमें बच्चे-बूढ़े सभी भाग ले सकते हैं। बच्चों के लिए ऑनलाइन संस्कार शाला का अयोजन भी किया जाता है। साथ ही अग्रवाल ने बताया कि गायत्री परिवार जयपुर ने कोरोना पीड़ितों के बीच भोजन की कमी को दूर करने के लिए भगवती भोजनालय की स्थापना की है। इसके माध्यम से घरों एवं अस्पतालों में जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाया जाता है। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप