गणगौरी तीज पर छाया रहा तिजणियों में उत्साह

 गणगौरी तीज पर छाया रहा तिजणियों में उत्साह
gangauri-teej-was-cheering-in-the-tijis

जोधपुर, 15 अप्रैल (हि.स.)। मारवाड़ में होली पर्व के बाद सोलह दिन यानी चैत्र मास शुक्ल पक्ष की तृतीया तक मनाया जाने वाला घुङला और गणगौर पर्व आज गणगौर पूजन के साथ श्रद्धापूर्वक व हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न हुआ। सुहागिन महिलाओं ने अपने सुहाग की दीर्घायु व कुंवारी कन्याओं ने मनवांछित वर की कामना का प्रतीक यह पर्व उत्साहपूर्वक मनाया। इस दौरान पूरे शहर में गणगौर पर्व की धूम रही। आज शाम गणगौर माता राखी हाउस से पुंगलपाड़ा स्थित अपने पीहर जाएगी लेकिन इसमें झांकियां शामिल नहीं होगी। इस रस्म को निभाने के लिए जिला प्रशासन ने गणगौर कमेटी को दो घंटे का समय दिया है। दो गज की दूरी में बैंडबाजों के संग गंवर माता पीहर जाएगी इसलिए इसमें सीमित संख्या में ही लोग शामिल होंगे। शहर में अनेक स्थानों पर मारवाड़ का प्रमुख लोकपर्व गणगौरी तीज हर्षोल्लास से मनाया गया। सुखी वैवाहिक जीवन और परिवार में वैभव की कामना के लिए मनाए जाने वाले गणगौरी तीज पर शंकर-पार्वती प्रतीक ईसर-गवर (ईश्वर-गौरी) का विशेष पूजन किया गया। मसूरिया माहेश्वरी मौहल्ला में होली के तीसरे दिन से शुरू हुआ गणगौर महोत्सव गुरुवार को संपन्न हुआ। इस दौरान महिलाओं द्वारा ईसर-गवर की पूजा के लिए कलश यात्रा निकाली गई। महिलाएं और बालिकाओं ने सज धज कर गणगौर व्रत कर पूजा की अर्चना की जिसमें मीनाक्षी राठी, बिदामी, रेखा, अनुसूया भट्टड़, संगीता, रितु कपुरिया, गायत्री राठी, दीपिक, राजेश्वरी राठी उपस्थित थी। वहीं मौहल्ला विकास समिति 19 ई लालसिंह कॉलोनी चौपासनी हाउसिंग बोर्ड में तीजण्ीियों द्वारा गणगौर का उत्सव मनाया गया। समिति के अध्यक्ष कमलेश सागर और सचिव सुरेशचंद्र भूतडा ने बताया कि कार्यक्रम में 25 महिलाओं ने भाग लिया। महिलाओं द्वारा रोजाना गाना-बजाना कर खूब आनंद के साथ नृत्य का कार्यक्रम किया गया। मधु भूतड़ा, संध्या अग्रवाल, निर्मला धूत, सन्तोष सान्गर, वीणा सान्गर, दीपिका मुथा, विधि मूथा, उमा माथुर, सुमन खत्री, दीपा माथुर, सीमा, कोमल, राखी धूत और अंजू माथुर ने उत्सव में भाग लिया। इसी तरह पालरोड स्थित नंदनवन ग्रीन की महिलाओं ने सज-धजकर और सोलह श्रृंगार कर क्षेत्र के प्रेम नगर स्थित राधाकृष्ण मंदिर से जल कलश (लोटिया) यात्रा निकाली। महिलाएं अपने सिर पर जल से भरे हुए कलश धर कर मंगल गीत गाते हुए और ढोल थाली पर सामूहिक रूप नृत्य करते हुए नंदनवन ग्रीन में कमल मूथा के घर पहुंची और गवर माता पूजन स्थल पर गवर माता को जल पिलाकर व विधिवत पूजन कर परंपरा का निर्वहन किया। साथ ही गवर माता से सुख, शांति, खुशहाली व समृद्धि के साथ कोरोना से अतिशीघ्र मुक्ति दिलाने की कामना और प्रार्थना की। महिला मंडल की निशा पुंगलियां ने बताया कि इस आयोजन में सुशीला मूथा, संतोष मूथा, मंजु मूथा, मोनिका मूथा, अन्नु मूथा, प्रियंका, दीपिका, कविता बाहेती, माधुरी पुंगलियां, दर्शिता पुंगलियां, जया, अनिता, मनीषा मूंदड़ा, रुचि मूंदड़ा, मुस्कान मूंदड़ा और स्वाति लोहिया आदि ने भाग लिया। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश / ईश्वर

अन्य खबरें

No stories found.