पेयजल समस्याओं का समाधान प्राथमिकता से करवाने की मांग

पेयजल समस्याओं का समाधान प्राथमिकता से करवाने की मांग
demand-to-solve-drinking-water-problems-on-priority

जयपुर, 15 मई (हि.स.)। विधायक रामलाल शर्मा ने क्षेत्र में पैदा हो रही पेयजल समस्याओं को लेकर जिला कलेक्टर को पत्र लिखा है। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों और शहर के वार्ड में हो रही पेयजल समस्याओं का प्राथमिकता से समाधान करने की मांग की। विधायक शर्मा ने बताया कि भीषण गर्मी में सरकार की ओर से राहत का पैकेज हमेशा दिया जाता है और कर्मचारी अधिकारी सतर्क रहकर काम करते हैं। लेकिन, वर्तमान में पेयजल की गंभीर समस्या कई वार्डों और कई गांवों में बनी हुई है। हकीकत यह है कि इन समस्याओं के समाधान के प्रति किसी की कोई हमदर्दी नहीं है। जनता परेशान है और अधिकारी और कर्मचारी मोबाइल फोन स्विच ऑफ करके रखते हैं और मोबाइल चालू भी है तो उसे उठाकर जवाब नहीं देते हैं। अधिकारियों द्वारा समस्याओं को सुनने के उपरांत उस बात पर कोई कार्रवाई नहीं करते। जिस तरीके से अधिकारियों का रवैया है वह अनुचित है। इस संकट की घड़ी में यदि जलदाय विभाग के कर्मचारी-अधिकारी ही जनता के बीच में रहकर उनकी समस्याओं का समाधान नहीं करेंगे, तो कब करेंगे? उन्होंने पत्र के माध्यम से जिला कलेक्टर को बताया कि विधानसभा क्षेत्र में पेयजल समस्याओं को लेकर सान्दरसर, बांसा, गोविंदगढ़, सामोद, चीथवाड़ी, इटावा भोपजी, उदयपुरिया, कालाडेरा सहित कई गांवों में जनता द्वारा लगातार धरने प्रदर्शन किए जा रहे हैं, परंतु मौके पर जलदाय विभाग के सहायक अभियंता एवं कनिष्ठ अभियंता नहीं जा रहे हैं और इससे आमजन को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान में स्थिति ज्यों की त्यों बनी हुई है। शर्मा ने जिला कलेक्टर से पेयजल विभाग के लापरवाह कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने और शहर के वार्डों एवं गांवों में पेयजल की समस्याओं का तत्काल प्रभाव से समाधान करवाने की मांग की। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप