केवड़े की नाल में गायों की मौत के मामले की सीबीआई जांच की मांग

केवड़े की नाल में गायों की मौत के मामले की सीबीआई जांच की मांग
demand-for-cbi-inquiry-into-the-case-of-death-of-cows-in-kevade-ki-naal

उदयपुर, 11 जून (हि.स.)। नगर निगम की ओर से गत माह केवड़े की नाल में छोड़ी गई 227 गायों की मौत के मामले की उदयपुर के गोपाल नागर फ्रेंड्स क्लब ने राज्य सरकार से सीबीआई जांच की मांग की है। साथ ही इस मामले में कार्रवाई नहीं होने पर अदालत में जनहित याचिका लगाने और जन-आंदोलन की चेतावनी दी है। गोपाल नागर ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता में आरोप लगाया कि निगम द्वारा 227 गायों को केवड़े की नाल में छोड़े जाने के कारण उनकी मौत हुई। इसके लिए निगम निगम जिम्मेदार है। निगम आयुक्त, महापौर व उपमहापौर द्वारा अपने स्तर पर गठित कमेटी ने इस मामले में क्लीनचिट दे दी। कमेटी में स्वतंत्र लोगों को रखा जाना चाहिए था। इसके बाद गोमाता के इस हश्र से आहत शहर के युवाओं ने गोपाल नागर फ्रेंड्स क्लब के साथ केवड़े की नाल में वृहद मौका मुआयना किया और साक्ष्य एकत्र किए। यह साक्ष्य शुक्रवार को प्रेस के समक्ष रखते हुए नागर ने आरोप लगाया कि धर्म की राजनीति करने वाला भाजपा बोर्ड गौ हत्या का आरोपी है। सरकार इसकी सीबीआई जांच कराए। महापौर व उपमहापौर इस्तीफा दंे। उन्होंने वन क्षेत्र में गायों को छोड़ने और उनकी मौत के मामले में वन विभाग की चुप्पी पर भी संदेह जताया। शहर के जगदीश लौहार, चमनसिंह, शैलेन्द्र औदिच्य, कौशल आमेटा, गौरव सिंह, सुन्दर वसीटा, गणेश शर्मा ने भी इस मामले को संवेदनशील बताते हुए इसकी गंभीरता से व स्वतंत्र जांच की जरूरत बताई। गौरतलब है कि मीडिया में यह मामला आने के बाद शहर के गोपालकों व संस्कृतिप्रेमियों ने कड़ा विरोध जाहिर किया था। इसके बाद नगर निगम की ओर से स्पष्टीकरण जारी कर इस पूरे मामले को ही मिथ्या बता दिया गया था। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल / ईश्वर