साइक्लोन को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड पर

साइक्लोन को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड पर
cyclone-on-administration-alert-mode

झुंझुनू,17 मई(हि.स.)। जिले में ताऊते साइक्लोन आने की संभावना के चलते किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए जिला एवं पुलिस प्रशासन भी चाक चौबंद हो गया है। सोमवार को जिला कलेक्टर ने कहा कि साइक्लोन की वजह से बिजली आपूर्ति, जल आपूर्ति, सड़के, पेड़ टूटने, खंम्भे टूटने जैसी घटनाएं हो सकती हैं, इसके लिए संबंधित विभाग रिप्लेसमेंट टीम को अलर्ट मोड पर रखें। मैन पावर एवं संसाधनों की किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रहनी चाहिए। वर्तमान में कोरोना महामारी है इसलिए सबसे पहले जिले के अस्पतालों में भर्ती मरीजों को उपचार में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हो, इसके लिए पावर कट होने की स्थिति में जनरेटर या अन्य वैकल्पिक व्यवस्था करनी होगी। इसी प्रकार जिला मुख्यालय पर संचालित ऑक्सीजन प्लांट एवं अन्य महत्वपूर्ण कार्यालयों की विद्युत आपूर्ति की भी वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने नगर पालिकाओं को निर्देश दिए कि वे नालों एवं नालियों की व्यापक सफाई करवा देवें। उपखण्ड अधिकारी अपने अपने क्षेत्र में आवश्यकतानुसार शेल्टर होम की तैयारी रखें, ताकि निचले इलाकों में पानी भरने या किसी मकान के क्षतिग्रस्त होने पर वहां के लोगों को शैल्टर होम में शिफ्ट किया जा सके। इसी प्रकार पानी, भोजन, बिस्तर आदि की भी पर्याप्त व्यवस्था रखें। पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि मॉक ड्रिल के माध्यम से तैयारियों को रिफ्रेश कर लेंवे। हिन्दुस्थान समाचार / रमेश सर्राफ / ईश्वर