कोरोना संक्रमण के साये में विधानसभा उपचुनाव के लिए काउंटडाउन शुरू

कोरोना संक्रमण के साये में विधानसभा उपचुनाव के लिए काउंटडाउन शुरू
countdown-begins-for-assembly-by-election-under-the-shadow-of-corona-infection

जयपुर, 14 अप्रैल (हि. स.)। प्रदेश की तीन विधानसभा सीटों पर 17 अप्रैल को होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए काउंटडाउन शुरू हो गया है। एक तरफ भाजपा और कांग्रेस जहां इन सीटों पर लड़ाई के लिए तैयार हैं, वहीं हनुमान बेनीवाल ने भी अपने उम्मीदवार उतार कर मुकाबले को रोमांचक बना दिया है। फैसला मतदाताओं को करना है कि वे अपना आशीर्वाद किसे देते है। प्रदेश की तीन सीटों पर उपचुनाव के लिए 27 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। अच्छी बात यह है कि इस बार कोई भी दागी उम्मीदवार चुनावी मैदान में नहीं है। चार उम्मीदवार ऐसे हैं जो धन-बल के लिहाज से मजबूत हैं, जिनकी चल-अचल संपत्ति करोड़ों में है। उपचुनाव पर कोरोना का खतरा भी बना हुआ है। ऐसे में निर्वाचन आयोग ने संक्रमण से बचने के लिए पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या में कमी की है, जिसके चलते पोलिंग बूथों की संख्या भी बढ़ाई गई है। उपचुनाव राजसमंद जिले की राजसमंद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा और चूरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभा सीट पर हो रहे हैं। इनमें से सुजानगढ़ एससी की आरक्षित सीट है, शेष राजसंमद और सहाड़ा सामान्य सीट हैं। उपचुनाव के लिए कुल 1 हजार 145 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। कोरोना संक्रमण के चलते एक पोलिंग बूथ पर एक हजार से ज्यादा मतदाता नहीं होंगे। सुजानगढ़ में पहले 261 पोलिंग बूथ थे, इस बार 151 बढ़ाए गए हैं। यानी कुल 418 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। राजसमंद में पहले 340 पोलिंग बूथ थे, इस बार 96 नए जोड़े गए हैं। यानी कुल 340 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। सहाड़ा में पहले 280 पोलिंग बूथ थे, इस बार 107 नए जोड़े गए हैं। यानी कुल 387 पोलिंग बूथ पर बनाए गए हैं। सुजानगढ़ के लिए 10 हजार 450 बैलेट पेपर, 600 पोस्टल बैलेट व 620 ब्रेल बैलेट का मुद्रण किया गया है, जबकि सहाड़ा के लिए 9 हजार 675 बैलेट पेपर, 4 हजार पोस्टल बैलेट और 430 ब्रेल बैलेट मुद्रित किए गए हैं। राजसमंद के लिए 7 हजार 930 बैलेट पेपर, 2 हजार पोस्टल बैलेट और 375 ब्रेल बैलेट प्रकाशित करवाए गए हैं। राजसमंद जिले की राजसंमद, भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा और चूरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभाओं में कुल 7 लाख 43 हजार 802 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इनमें 3 लाख 80 हजार 192 पुरुष व 3 लाख 63 हजार 610 महिला मतदाता हैं। सभी सीटों के लिए 17 अप्रैल को मतदान होगा, जबकि मतगणना 2 मई को करवाई जाएगी। उपचुनाव में 27 उम्मीदवार चुनावी समर में हैं। सहाड़ा (भीलवाड़ा) से 8, सुजानगढ़ (चूरू) से 9 और राजसमंद (राजसमंद) से 10 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे है। प्रदेश की तीनों विधानसभाओं के लिए 23 मार्च से नामांकन दाखिल करने प्रारंभ हो गए थे। 30 मार्च तक 53 उम्मीदवारों ने 68 नामांकन पत्र दाखिल किए। संवीक्षा के बाद तीनों विधानसभा क्षेत्रों से 12 उम्मीदवारों के नामांकन पत्र विभिन्न कमियों के चलते रद्द किए गए। नाम वापसी के दिन 14 उम्मीदवारों ने अभ्यर्थिता वापस ली। इस प्रकार अब चुनाव मैदान में 27 उम्मीदवार शेष रह गए हैं। सहाड़ा (भीलवाड़ा) से 8 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिसमें से 7 पुरुष और 1 महिला उम्मीदवार (कांग्रेस उम्मीदवार) मैदान में है। सुजानगढ़ (चुरू) से 9 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिसमें से 8 पुरुष और 1 महिला (निर्दलीय) उम्मीदवार तथा राजसमंद (राजसमंद) से 10 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिसमें से 9 पुरुष और 1 महिला (बीजेपी) उम्मीदवार मैदान में हैं। सुजानगढ़ में बीजेपी से खेमाराम (एससी), कांग्रेस से मनोज कुमार (एससी), आरएलटीपी से सीताराम नायक (एससी), एआरजेपी से दौलतराम (एससी), निर्दलीय के तौर पर ओमप्रकाश मेघवाल (एससी), जगमाल (एससी), मंजू गंटियाल बाड़ी (एससी), मनोज कुमार (एससी), हरिराम मेहरड़ा (एससी) तथा राजसमंद में बीजेपी से दीप्ति किरण माहेश्वरी (सामान्य), कांग्रेस- तनसुख बोहरा (सामान्य), आरएलटीपी प्रहलाद खटाना गुर्जर (सामान्य), बीटीपी अमरसिंह कालूनधा (एसटी), राइट टू रिकॉल पार्टी हितेश शाक्या (एससी), निर्दलीय के तौर पर कमलेश भारती (सामान्य), नीरू राम कापड़ी (सामान्य), बाबूलाल सालवी (एससी), सुरेश (सामान्य), सोहन लाल भाटी (एससी) एवं सहाड़ा में कांग्रेस से गायत्री त्रिवेदी (सामान्य), बीजेपी से डॉ. रतन जाट (सामान्य), आरएलटीपी से बद्रीलाल जाट (सामान्य), राइट टू रिकॉल पार्टी से ईश्वर चौधरी (सामान्य), दिनेश कुमार शर्मा (सामान्य), मांगी लाल (सामान्य), रामेश्वरलाल (एससी), विकाश पारीक (सामान्य) उम्मीदवार है। सबसे युवा उम्मीदवार सहाड़ा से राइट टू रिकॉल पार्टी के उम्मीदवार ईश्वर लाल और सुजानगढ़ से मनोज कुमार निर्दलीय के तौर पर मैदान में हैं, जिनकी उम्र 26 वर्ष है। सबसे बुजुर्ग सहाड़ा से बीजेपी के उम्मीदवार रतनलाल जाट हैं, जिनकी उम्र 72 साल है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के उम्मीदवार सीताराम नायक सबसे कम पढ़े-लिखे उम्मीदवार हैं। वे पंडित जी पोथी से पांचवी पास हैं। इसी तरह अभिनव राजस्थान पार्टी के उम्मीदवार दौलत राम भी पांचवीं पास हैं। ज्यादातर उममीदवार ग्रेजुएट हैं। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप