कोरोना की आपात स्थिति में प्रदर्शन की अनुमति कैसे - भाजपा

कोरोना की आपात स्थिति में प्रदर्शन की अनुमति कैसे - भाजपा
कोरोना की आपात स्थिति में प्रदर्शन की अनुमति कैसे - भाजपा

उदयपुर, 25 जुलाई (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी शहर जिला उदयपुर ने कांग्रेस पर कोरोना महामारी के दौरान आपदा कानूनों की धज्जियां उड़ाने का आरोप लगाते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की है। भाजपा शहर जिलाध्यक्ष रवींद्र श्रीमाली सहित प्रमुख पदाधिकारियों ने बयान जारी कर कहा कि कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई के चलते राजस्थान में सरकार नाम की चीज नहीं रही है। कुर्सी बचाने की होड़ाहोड़ी में राज्यपाल की गरिमा को भी ठेस पहुंचाने का काम किया गया है। दबाव की राजनीति करने के लिए प्रदेश भर में शनिवार को प्रदर्शन किए गए जबकि कोरोना महामारी के चलते 20 लोग भी एकत्र होने पर प्रशासन कार्रवाई कर रहा है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते जब धारा 144 लगी हुई है तो प्रशासन ने किस आधार पर धरने प्रदर्शन की स्वीकृति प्रदान की। एक तरफ शहर में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि हो रही है, प्रशासन स्वयं शहर में व्यापारियों को जल्दी दुकान बंद करने की अपील कर रहा है, सप्ताह में 1 दिन लॉक डाउन करने का सुझाव भी प्रशासन की तरफ से दिया जा रहा है, ऐसी आपात स्थिति में सरकार के तंत्र पर कांग्रेस पार्टी दबाव बनाकर जबरन धरने प्रदर्शन की स्वीकृति प्राप्त कर संक्रमण के खतरे की आशंका बढ़ा रही है। भाजपा ने प्रशासन से इस निमित्त सरकारी तंत्र से और कांग्रेस पार्टी की तरफ से जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल / ईश्वर-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.