control-room-set-up-for-election-related-problems-or-complaints-are-being-operated-for-three-shifts-and-24-hours
control-room-set-up-for-election-related-problems-or-complaints-are-being-operated-for-three-shifts-and-24-hours
राजस्थान

चुनाव से जुड़ी समस्या या शिकायत के लिए स्थापित कंट्रोल रूम तीन पारी व 24 घंटे हो रहे संचालित

news

जयपुर, 01 अप्रैल (हि. स.)। प्रदेश में होने वाले उप चुनाव के दौरान मतदाताओं को निर्वाचन से जुड़ी किसी भी समस्या या शिकायत के लिए अधिकारियों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। निर्वाचन विभाग ने तीनों जिला मुख्यालय और जयपुर में राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है, जहां मतदाता किसी भी समय अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं और समस्या का समाधान भी पा सकते हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि सुजानगढ़, राजसमंद और सहाड़ा विधानसभाओं में आगामी 17 अप्रैल को मतदान होना है। सभी जिलों से संबंधित शिकायतों के त्वरित समाधान के लिए स्थापित नियत्रंण कक्षों में चुनाव कार्य में दक्ष व पूर्ण जानकारी रखने वाले कार्मिकों को नियोजित किया गया है। गुप्ता ने बताया कि चुरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभा के मतदाता 01568-220094 दूरभाष नंबर पर, भीलवाड़ा की सहाडा विधानसभा के मतदाता 01481-220041, 220043 नंबर पर और राजसमंद जिले की राजसमंद विधानसभा के मतदाता निर्वाचन प्रक्रिया या मतदाता से जुड़ी जानकारी या किसी भी तरह की शिकायत के लिए 02952-2222585 पर फोन कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि सभी जिलों में 3 पारियों और 24 घंटे नियत्रंण कक्ष संचालित हो रहा है। राज्य स्तर पर भी निर्वाचन विभाग के मुख्यालय पर मतदाता 0141-2227550 नंबर पर फोन कर संबंधित जानकारी हासिल कर सकता है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी गुप्ता ने बताया कि कोई भी मतदाता 1950 : वोटर हेल्पलाइन नंबर के जरिए मतदान या फिर पहचान पत्र को लेकर किसी भी तरह की परेशानी का तत्काल निवारण पा सकता है। इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए मतदाताओं को जानकारी देने और उनकी शिकायतों के निवारण की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि हेल्पलाइन नंबर 1950 के जरिए वोटर यह जानकारी ले सकते हैं कि उनका नाम मतदाता सूची में है या नहीं। इस नंबर के जरिए वोटर अपना नाम मतदाता सूची में जुड़वाने, हटाने और सुधार संबंधी जानकारी भी हासिल कर सकते हैं। इस नंबर पर मतदाता सूची की पूरी जानकारी भी उपलब्ध कराई जाएगी। मतदाता इसके जरिए अपने मतदान केंद्र और विधानसभा क्षेत्र की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप