न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. पानगडिय़ां के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री व चिकित्सा मंत्री की संवेदनाएं

न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. पानगडिय़ां के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री व चिकित्सा मंत्री की संवेदनाएं
condolences-of-former-chief-minister-and-medical-minister-on-the-death-of-neurologist-dr-panagariya

जयपुर, 11 जून (हि.स.)। पद्मश्री से सम्मानित और विख्यात न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. अशोक पानगडिय़ां के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने संवेदनाएं प्रकट की है। राजे व शर्मा ने पानगडिय़ां के निधन को प्रदेश के लिए बड़ी क्षति बताया। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अपनी संवेदना में लिखा कि अपने सेवाभावी स्वभाव एवं चिकित्सा क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिए पहचान बनाने वाले न्यूरोलॉजिस्ट पद्मश्री डॉ. अशोक पानगडिय़ा के निधन का समाचार अत्यंत दु:खद है। यह अकेले चिकित्सा जगत के लिए ही नहीं हमारे प्रदेश के लिये भी अपूरणीय क्षति है। मैं ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शान्ति व शोक-संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की कामना करती हूं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने अपने संदेश में कहा कि डॉ. पानगडिय़ां के चिकित्सा के क्षेत्र में दिए अतुलनीय योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। वे न केवल बेहतरीन डॉक्टर रहे बल्कि अभिनव अनुसंधानकर्ता, समाजसेवी और चिकित्सा प्रशासक भी रहे। उन्होंने सवाई मानसिंह अस्पताल मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल व आरयूएचएस के वाइस चांसलर के पद को भी सुशोभित किया। उनके 90 से ज्यादा रिसर्च पेपर हेल्थ जर्नल्स में छप चुके हैं। उनकी मेडिकल और सोशल सहभागिता के चलते उन्हें यूनेस्को अवॉर्ड भी मिल चुका है। उन्हें कई लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड भी प्राप्त हुए हैं। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि स्वर्गीय डॉ. पानगडिय़ा का निधन न केवल चिकित्सा जगत बल्कि प्रदेश और देश के लिए भी अपूरणीय क्षति है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति एवं शोकाकुल परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर