शंकरलाल के लिए वरदान बनी मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना

शंकरलाल के लिए वरदान बनी मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना
chief-minister-chiranjeevi-health-insurance-scheme-became-a-boon-for-shankarlal

-उदयपुर के गीतांजली अस्पताल में हुई निःशुल्क हार्ट बायपास सर्जरी उदयपुर, 18 जून (हि.स.)। स्वस्थ राजस्थान की संकल्पना को साकार करने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा संचालित मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना हर तबके के लिए वरदान सी साबित हो रही है। इस योजना ने चितौड़गढ़ के एक छोटे से गांव रूद में रहने वाले शंकरलाल को नया जीवन प्रदान किया है। 14 जून 2021 को उदयपुर के गीतांजली हॉस्पिटल में इनके हार्ट बायपास की सर्जरी योजना के अन्तर्गत निःशुल्क हुई है। फिलहाल शंकरलाल अस्पताल में ही स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। जल्दी ही उन्हें डिस्चार्ज किया जाएगा। योजना से मिला संबल शंकरलाल के पुत्र राजेन्द्र ने बताया कि घर में बीमारी जब आती है तो अपने साथ शारीरिक कष्ट तो लाती ही है पर आर्थिक रूप से भी कमर तोड़ देती है। योजना के कारण उदयपुर के इतने बड़े अस्पताल में हम लोग अपने पिताजी का इलाज बढ़िया ढंग से करा पाये। योजना न होती तो शायद कर्जा लेकर या जो भी घर में थोड़ा बहुत पैसा बचाया हुआ था उनसे इलाज कराना पड़ता। उन्होंने योजना के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। हृदय रोग की गम्भीर समस्या से ग्रसित थे शंकरलाल अपने दो बेटो के साथ शंकरलाल गांव में छोटी सा खेती-किसानी का कार्य करते थे। चार-पांच साल से शंकरलाल को गेस्ट्रीक की समस्या थी। एक दिन सुबह यह समस्या ज्यादा हो गई। पहले घर वालों ने सोचा कि ये रोज जैसे गैस की समस्या ही होगी, दवाई से आराम आ जायेगा। पर जब शंकरलाल की समस्या बढने लगी तो घरवाले पास के एक अस्पताल में लेकर गए जहां अस्पताल वालों ने प्राथमिक जांच कर बताया कि इन्हें हृदय रोग की गम्भीर समस्या है। दिक्कत ज्यादा है, इसलिए किसी बड़े अस्पताल में लेकर जाना होगा और वहां इलाज कराना होगा। शंकरलाल का पूरा परिवार मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकृत था। परिवार वालों ने उदयपुर के योजना से जुड़े एक बड़े अस्पताल गीतांजली मेडिकल कॉलेज में ले जाने का निर्णय किया। तुरन्त शंकरलाल को घरवाले गीतांजली अस्पताल लेकर आये और रजिस्ट्रेशन काउंटर पर जन आधार नम्बर देकर योजना में अपनी पात्रता की जांच करवाई। पात्रता की जांच होने के साथ ही अस्पताल ने योजना के अन्तर्गत उनको भर्ती कर इलाज शुरू किया। अस्पताल के हदय रोग विशेषज्ञ डा.संजय गांधी ने एंजियोग्राफी की जिससे पता लगा कि शंकरलाल के हार्ट में बड़े ब्लॉकेज हैं। हार्ट बायपास सर्जरी करना जरूरी है। अस्पताल प्रशासन ने परिवार को बताया कि मुख्यमंत्री चिंरजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभार्थी होने के कारण और इस अस्पताल में ये पैकेज उपलब्ध होने से इनकी हार्ट सर्जरी पर कोई पैसा नहीं लगेगा। सारा इलाज, जांच, दवाइयां सभी कुछ निःशुल्क होगा। इसका सारा खर्च राज्य सरकार द्वारा बीमा कम्पनी के माध्यम से दिया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल/संदीप