budget-2021-22-if-serious-injured-reach-hospital-in-time-they-will-get-five-thousand-rupees-and-citation
budget-2021-22-if-serious-injured-reach-hospital-in-time-they-will-get-five-thousand-rupees-and-citation
राजस्थान

बजट 2021-22: गंभीर घायल को समय से अस्पताल पहुंचाया तो मिलेंगे पांच हजार रुपये और प्रशस्ति पत्र

news

जयपुर, 24 फरवरी(हि.स.)। प्रदेश में दुर्घटनाओं में असामयिक मृत्यु रोकने के लिए जीवन रक्षक योजना का गठन कर गंभीर घायल व्यक्तियों को समय से अस्पताल पहुंचाकर जीवन बचाने वाले भले व्यक्ति को पांच हजार रुपये एवं प्रशस्ति पत्र दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को विधानसभा में प्रस्तुत 2021-22 के अपने बजट में ये घोषणा करते हुए चिंता व्यक्त की कि राजस्थान में प्रतिवर्ष सड़क दुर्घटनाओं में 40 हजार से अधिक व्यक्तियों की असामयिक मृत्यु हो जाती है। इन दुर्घटनाओं से बचने के लिए पिछले बजट में तमिलनाडु की तर्ज पर एक रोडमैप तैयार करने की घोषणा की थी। उसी क्रम जीवन रक्षक योजना का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि घायल व्यक्ति का, बिना किसी पहचान एवं पात्रता के, चाहे वह किसी भी राज्य का हो, प्रदेश के निजी एवं राजकीय चिकित्सालयों में निःशुल्क इलाज करना सुनिश्चित किया जायेगा। . इसके अलावा सड़क दुर्घटना मृत्यु दर कम करने वाले श्रेष्ठ तीन जिलों को 'मुख्यमंत्री सड़क सुरक्षा पुरस्कार दिया जाएगा। वहीं 40 सीएचसी पर प्राइमरी ट्रोमा सेंटर पर दस करोड़ रुपये का व्यय किया जाएंगे। समस्त प्रादेशिक परिवहन कार्यालयों में पासपोर्ट सेवा केन्द्र की तर्ज पर फ्रंट आफिस मैनेजमैंट सिस्टम संचालित किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने जोधपुर जिले के पीपाड़ शहर परिवहन कार्यालय को जिला परिवहन कार्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि प्रत्येक जिले में ट्रैफिक पार्क बनाए जाएंगे, जिसपर 6 करोड़ 50 लाख रुपये व्यय किये जायेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप / ईश्वर