जयपुर ग्रेटर की महापौर व तीन पार्षदों को हटाने का विरोध में भाजपा ने किया विरोध प्रदर्शन

जयपुर ग्रेटर की महापौर व तीन पार्षदों को हटाने का विरोध में भाजपा ने किया विरोध प्रदर्शन
bjp-protested-against-the-removal-of-the-mayor-and-three-councilors-of-jaipur-greater

जोधपुर, 08 जून (हि.स.)। जयपुर ग्रेटर की महापौर सौम्या गुर्जर को हटाने के विरोध में मंगलवार को भाजपा ने कलेक्ट्रेट व मेडिकल कॉलेज चौराहे पर महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष जमकर विरोध प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृहनगर में उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। भाजपा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने लोकतंत्र पर हमला किया है। भाजपा इसे बर्दाश्त नहीं करेगी। भाजपा ने आज चौपासनी हाउसिंग बोर्ड सहित शहर के विभिन्न स्थान पर विरोध प्रदर्शन किया। जोधपुर शहर भाजपा जिलाध्यक्ष देवेन्द्र जोशी व राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। मुख्यमंत्री गहलोत के खिलाफ कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास रहा है कि यह हमेशा लोकतंत्र पर हमला करती है। निर्वाचित महापौर व पार्षदों को हटाना लोकतंत्र पर कुठाराघात है। गहलोत ने कहा कि हम लोग महापौर को हटाने का विरोध कर रहे है। वर्ष 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल थोप लोकतंत्र की हत्या की थी। इसका नतीजा यह निकला कि वर्ष 1977 में कांग्रेस साफ हो गई। अब गहलोत सरकार भी उसी गलती को दोहरा रही है। आगामी चुनाव में प्रदेश से कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो जाएगा। वहीं देवेन्द्र जोशी ने कहा कि जयपुर में भाजपा पूरी तरह से एकजुट है। नई महापौर के कार्यभार ग्रहण करने के बारे में उन्होंने कहा कि उन्हें भाजपा ने नहीं बल्कि राज्य सरकार ने नियुक्त किया है। यह वैकल्पिक व्यवस्था है। हमारा विरोध निर्वाचित महापौर को हटाने के तरीके से है। इस अवसर पर बड़ी संख्या में एकत्र कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री गहलोत के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उल्लेखनीय है कि जयपुर ग्रेटर की महापौर सौम्या गुर्जर व कमिश्नर के बीच कचरा उठाने वाली कंपनी को लेकर उपजे विवाद के बाद राज्य सरकार ने महापौर व दो पार्षदों को निलंबित कर दिया था। इसके विरोध में आज भाजपा प्रदेशभर में विरोध प्रदर्शन कर रही है। जोधपुर शहर में भी कई स्थान पर कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां थाम नारेबाजी कर अपना विरोध व्यक्त किया। हिन्दुस्थान समाचार/ सतीश/ ईश्वर