70 डिग्री टेडी रीढ़ की हड्डी को किया सीधा: स्कोलियोसिस सर्जरी कर रचा नया इतिहास
70 डिग्री टेडी रीढ़ की हड्डी को किया सीधा: स्कोलियोसिस सर्जरी कर रचा नया इतिहास
राजस्थान

70 डिग्री टेडी रीढ़ की हड्डी को किया सीधा: स्कोलियोसिस सर्जरी कर रचा नया इतिहास

news

जोधपुर, 16 अक्टूबर (हि.स.)। डॉ. सम्पूर्णानंद मेडिकल कालेज के अस्थि रोग विभाग ने एमजीएच अस्पताल में रीढ़ की हड्डी का एक जटिल आपरेशन किया। अस्थि रोग विभागाध्यक्ष डॉ अरूण वैश्य ने बताया कि महात्मा गांधी चिकित्सालय में डॉ किशोर रायचन्दानी के मार्गदर्शन में रीढ़ की हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ महेंद्र सिंह टाक की टीम में शामिल डॉ.जगदीश एवं डॉ. उज्जवल ने जटिलतम ऑपरेशन को सम्पन किया। एनेस्थोसिया विभागाध्यक्ष डॉ शोभा उज्ज्वल ने बताया कि इन मरीजों की बेहोशी सामान्य मरीजों की तुलना में काफी जटिल एवं तकनीकी रूप सेवा मुश्किल होता है। इसके लिए एनेस्थोसिया टीम ने सप्ताह भर की पूर्व तैयारी के साथ डॉ फतेह सिंह भाटी के नेतृत्व में डॉ गायत्री तंवर एवं डॉ स्वाती, डॉ विशाल ने किया। ओटी स्टाफ में ओटी इंचार्ज इकबाल कायमखानी के नेतृत्व में अजीत गुरमानी एवं अर्जुन सिंह सोढ़ा का सहयोग रहा। तेरह साल के बच्चे को मिला जीवनदान : विभागाध्यक्ष डा. अरूण वैश्य ने बताया कि अस्थि रोग विभाग के चिकित्सकों ने नया इतिहास रचते हुए मेडिकल कॉलेज सम्बन्ध अस्पताल में पहली बार हुई स्कोलियोसिस सर्जरी की। 13 वर्ष के बच्चे में 7 घण्टे चले ऑपरेशन से दिया नया जीवनदान दिया। 70 डिग्री तक टेढ़ी हुई रीढ़ की हड्डी का ऑपरेशन कर किया सीधा। ऑपरेशन से 8 सेन्टीमीटर बढ़ गई मरीज की लम्बाई। विभागाध्यक्ष डॉ अरूण वैश्य ने बताया कि डॉ किशोर रायचन्दानी के मार्गदर्शन में स्पाईन सर्जन डॉ महेंद्र सिंह टाक की टीम ने यह जटिलतम ऑपरेशन किया। अब इस प्रकार के मरीजों को स्कोलियोसिस सर्जरी के लिए महानगर जैसे मुम्बई, दिल्ली, अहमदाबाद आदि नहीं जाना पड़ेगा सामान्यत इस प्रकार के मरीजों की सर्जरी का खर्चा 4 से 5 लाख रुपए आता है। इस स्कोलियोसिस सर्जरी की जटिलता किडनी प्रत्यारोपण और लिवर प्रत्यारोपण के समकक्ष मानी जाती हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश / ईश्वर-hindusthansamachar.in