हड़ताली इंटर्न चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री व चिकित्सा मंत्री का पुतला फूंका
हड़ताली इंटर्न चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री व चिकित्सा मंत्री का पुतला फूंका
राजस्थान

हड़ताली इंटर्न चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री व चिकित्सा मंत्री का पुतला फूंका

news

जोधपुर, 15 अक्टूबर (हि.स.)। डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के इंटर्न डॉक्टरों का अपनी मांगों को लेकर मथुरादास माथुर अस्पताल में दिया जा धरना गुरुवार को भी जारी रहा। इसके साथ ही आज मथुरादास माथुर अस्पताल के गेट पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा का पुतला भी जलाया गया। मानदेय बढ़ाने व अन्य मांगों को लेकर इंटर्न डॉक्टरों ने सोशल मीडिया पर भी अभियान चला रखा है। वहीं कुछ डॉक्टरों ने जयपुर जाकर वहां की जा रही भूख हड़ताल में भी शिरकत की। डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि सरकार द्वारा इस मुद्दे पर चुप्पी साधे रहने के कारण इंटर्न डॉक्टर्स ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा के पुतले जलाकर प्रदर्शन किया। मांगें नहीं मानने पर अब इंटर्न डॉक्टर्स ने जयपुर में भूख हड़ताल शुरू की है। उन्होंने बताया कि इंटर्न का मानदेय बढ़ाने के लिए यह कार्य बहिष्कार किया जा रहा है। कोविड में कार्यरत इंटर्न का स्टाईपेंड बढ़ाने और कोविड ड्यूटी प्रति उपस्थिति के हिसाब से देने की मांग को लेकर हड़ताल की गई है। इंटर्न से कोविड में पिछले छह महीने से ड्यूटी कराई जा रही है, लेकिन मेडिकल कॉलेज प्रशासन और सरकार कभी भी इंटर्न के मानदेय को बढ़ाने के लिए प्रयास नहीं कर रही है। देशभर में सबसे कम मानदेय पर राजस्थान में इंटर्न काम कर रहे हैं। उन्हें 233 रुपए प्रतिदिन का स्टाइपेंड दिया जा रहा है जोकि न्यूनतम मजदूरी से भी कम है। मानदेय बढ़ाने की मांग को लेकर मेडिकल कॉलेज प्रशासन को लिखित और मौखिक तौर पर कई बार ज्ञापन दिए जा चुके हैं, लेकिन कोई सकारात्मक प्रयास नहीं कर रहा। इससे सभी इंटर्न में रोष है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in