सीईटीपी में ओसीईएम सिस्टम स्थापित, दिल्ली-जयपुर से हो सकेगी मॉनिटरिंग
सीईटीपी में ओसीईएम सिस्टम स्थापित, दिल्ली-जयपुर से हो सकेगी मॉनिटरिंग
राजस्थान

सीईटीपी में ओसीईएम सिस्टम स्थापित, दिल्ली-जयपुर से हो सकेगी मॉनिटरिंग

news

पाली, 23 अक्टूबर (हि. स.)। प्रदूषण नियंत्रण मंडल की ओर से प्रदेश में सर्वाधिक प्रदूषण फैलाने वाले 17 श्रेणियों के उद्योगों पर की जा रही ऑनलाइन मॉनिटरिंग में अब पाली का कपड़ा उद्योग भी शामिल हो गया है। पाली शहर के विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों में संचालित हो रही कपड़ा इकाइयों से निश्रावित रंगीन पानी को ट्रीट करने के लिए सीईटीपी में लगे प्लांट संख्या 6 को इस कवायद के तहत ऑनलाइन कंटीनियुस इफ्लुएंट मॉनिटरिंग सिस्टम स्थापित किया गया है। एनजीटी के निर्देशों पर स्थापित किए गए इस सिस्टम की बदौलत दिल्ली और जयपुर में बैठे अधिकारी सीईटीपी के पानी का पीएच, सीओडी, बीओडी और टीएसएस समेत कई मापदंडों की रिपोर्ट हर समय ले सकेंगे। इस सिस्टम की स्थापना से सीईटीपी प्लांट संख्या 6 पर अब राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण मंडल और केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण मंडल की सीधी मॉनिटरिंग रहेगी। एनजीटी के निर्देश पर सीईटीपी प्लांट 6 पर ऑनलाइन कंट्ीनियुस इफ्लुएंट मॉनिटरिंग सिस्टम लगाया गया है। इसका सर्वर आरपीसीबी और सीपीसीबी से कनेक्ट रहेगा। सेंटर लैब जयपुर और सीपीसीबी दिल्ली में इसकी नियमित मॉनिटरिंग होगी। राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अध्यक्ष ने सीईटीपी प्लांट पर मॉनिरिंग सिस्टम शुरू कराने के निर्देश दिए थे। इसकी पालना में मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी आरके बोड़ा ने सीईटीपी प्रबंधन को सख्ती से हिदायत देकर मॉनिटरिंग सिस्टम शुरू करवाया है। बोड़ा ने बताया कि इस सिस्टम की स्थापना के बाद जयपुर और दिल्ली में बैठे अधिकारियों तक सारी रिपोर्ट्स स्वचालित रूप से मुहैया हो सकेगी। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप-hindusthansamachar.in