सरकारी मुख्‍य सचेतक ने किया जवाब दाखिल, याचिका को बताया प्रीमैच्योर
सरकारी मुख्‍य सचेतक ने किया जवाब दाखिल, याचिका को बताया प्रीमैच्योर
राजस्थान

सरकारी मुख्‍य सचेतक ने किया जवाब दाखिल, याचिका को बताया प्रीमैच्योर

news

जयपुर,18 जुलाई (हि.स.)। सचिन पायलट सहित 19 विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष की ओर से जारी नोटिस के खिलाफ हाईकोर्ट में लंबित याचिका में पक्षकार बने सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी ने जवाब पेश कर दिया है। मामले में हाईकोर्ट 20 जुलाई को सुनवाई करेगा। जोशी की ओर से पेश जवाब में कहा गया कि स्पीकर ने फिलहाल विधायकों को नोटिस ही दिए हैं। ऐसे में याचिका प्री-मैच्योर होने के कारण खारिज की जाए। स्पीकर ने अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए ही नोटिस जारी किए हैं। इसके अलावा संविधान की अनुसूची दस के पैरा 2 की वैधता को सुप्रीम कोर्ट वर्ष 1992 में ही तय कर चुका है। ऐसे में एक प्रावधान को पुन: चुनौती नहीं दी जा सकती। इसके अलावा याचिकाकर्ताओं ने पार्टी के नेताओं के साथ ही पार्टी विरोधी बयान भी दिया है। वहीं पार्टी के बुलावे पर बैठक में ना जाकर अनुशासनहीनता ही दर्शाई है। जवाब में यह भी कहा गया कि विधायकों को नोटिस का जवाब देने के लिए भी अब समय बढक़र सात दिन का हो गया है। गौरतलब है कि मुख्य न्यायाधीश की खंडपीठ ने सचिन पायलट सहित अन्य विधायकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए स्पीकर के समक्ष याचिका पेश करने वाले महेश जोशी को पक्षकार बनाते हुए जवाब पेश करने को कहा था। हिन्दुस्थान समाचार/पारीक/संदीप-hindusthansamachar.in