शारदीय नवरात्र शनिवार से: घरों में होगी घट स्थापना, मंदिरों में दर्शन लाभ नहीं
शारदीय नवरात्र शनिवार से: घरों में होगी घट स्थापना, मंदिरों में दर्शन लाभ नहीं
राजस्थान

शारदीय नवरात्र शनिवार से: घरों में होगी घट स्थापना, मंदिरों में दर्शन लाभ नहीं

news

गरबा रास व डांडिया की खनक पर रहेगी रोक जोधपुर, 16 अक्टूबर (हि.स.)। शक्ति की भक्ति का पर्व शारदीय नवरात्र शनिवार से शुरू होंगे। इस बार कोरोना संक्रमण के चलते गरबा और डांडियां पर प्रशासन की तरफ से रोक लगाई गई है। लोगबाग घरों में ही घट स्थापना कर मां शारदा के विविध रूपों की पूजा अर्चना कर सकेंगे। मेहरानगढ़ में भी मां चामुण्डा के दर्शन नहीं किए जा सकेंगे। अलबत्ता पुजारीगणों द्वारा मंदिर में सुबह शाम पूजा अर्चना होती रहेगी मगर दर्शनार्थियों को लाभ नहीं मिल पाएगा। देवी मंदिरों में भक्तों को उनके दर्शन का लाभ मिलना मुश्किल है। इस बार कोरोना के चलते मंदिरों में सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं होंगे। मातारानी के पंडाल भी नहीं सजेंगे। मंदिरों की जगह मन मंदिर व घरों में माता की नौ दिन तक पूजा होगी। इस बार अधिक मास लगने के कारण नवरात्र 25 दिन देरी से शुरू हो रहे है। नवरात्र 25 अक्टूबर तक रहेंगे। इस बार दशहरा भी 25 अक्टूबर को ही मनाया जाएगा। इस दिन ही नवमीं भी है। बालिकाओं को भोजन भी नवमीं पर ही कराया जाएगा। कई श्रद्धालु दुर्गाष्टमी पर क न्याओं को भोजन करा सकेंगे। बाजारों में बढ़ सकती है रौनक: हालांकि कोरोना काल के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति पस्त हो रखी है। मगर नवरात्र को लेकर हर बार उत्सुकता रहती आई है। व्यापारीगण नवरात्र पर अच्छा व्यापार चलने की आस भी लगाए बैठे है। बाजारों में रौनक छाने के आसार बने है। ज्वैलरी, वाहन और इलेक्ट्रानिक उत्पादों की खरीद फरोख्त अच्छे से होने के आसार बने है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/ ईश्वर-hindusthansamachar.in