विधि छात्र से फीस वसूली को लेकर हाईकोर्ट ने मांगा जवाब
विधि छात्र से फीस वसूली को लेकर हाईकोर्ट ने मांगा जवाब
राजस्थान

विधि छात्र से फीस वसूली को लेकर हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

news

जयपुर, 10 सितम्बर (हि.स.)। राजस्थान हाईकोर्ट ने पंच वर्षीय विधि महाविद्यालय की ओर से सातवें सेमिस्टर की फीस वसूलने पर प्रमुख उच्च शिक्षा सचिव, राजस्थान विश्वविद्यालय और विधि महाविद्यालय को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। इसके साथ ही अदालत ने फीस जमा नहीं कराने पर याचिकाकर्ता का प्रवेश निरस्त नहीं करने को कहा है। न्यायाधीश अशोक गौड़ ने यह आदेश कुनाल शर्मा की याचिका पर दिए। याचिका में अधिवक्ता अश्वनी चौबीसा ने अदालत को बताया कि याचिकाकर्ता ने अपने छटे सेमेस्टर की फीस गत फरवरी माह में जमा करा दी थी। वहीं लॉकडाउन की वजह से व्यक्तिगत उपस्थिति के द्वारा पढ़ाई बंद हो गई। इसी बीच कॉलेज प्रशासन ने छात्रों को अगले सेमेस्टर में प्रमोट करते हुए गत 20 अगस्त को पुन: प्रवेश का नोटिस जारी कर 10 सितंबर तक फीस जमा कराने को कहा। याचिका में कहा गया कि लॉकडाउन में कॉलेज बंद रहने से कॉलेज के कई मदों में बचत हुई है। वहीं बार कौंसिल ऑफ इंडिया ने भी गत 27 जुलाई को पत्र लिखकर सभी कॉलेजों को छात्रों को रियायत देने के संबंध में योजना बनाने का सुझाव दिया है। ऐसे में याचिकाकर्ता को फीस में छूट दी जाए। जिस पर सुनवाई करते हुए एकलपीठ ने संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी करते हुए फीस जमा नहीं कराने पर याचिकाकर्ता का प्रवेश निरस्त नहीं करने को कहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ पारीक/ ईश्वर-hindusthansamachar.in