मेहरानगढ़ दुर्ग खुलने का रास्ता साफ,  एक अक्टूबर से खुलेगा
मेहरानगढ़ दुर्ग खुलने का रास्ता साफ, एक अक्टूबर से खुलेगा
राजस्थान

मेहरानगढ़ दुर्ग खुलने का रास्ता साफ, एक अक्टूबर से खुलेगा

news

जोधपुर, 22 सितम्बर (हि.स.)। वैश्विक महामारी कोरोना के कारण भारत सरकार एवं राजस्थान सरकार की गाइड लाइन के अनुसार 22 मार्च से बन्द मेहरानगढ़ दुर्ग आगामी एक अक्टूबर से पुन: खोला जाएगा। मेहरानगढ़ म्यूजिय़म ट्रस्ट के निदेशक कुंवर करणीसिंह जसोल ने बताया कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार अनलॉक के दौरान विभिन्न होटल्स, गेस्ट हाउस, सरकारी म्यूजिय़म व अन्य पर्यटन स्थलों को खोला गया है। इसी को ध्यान में रखते हुए और गाइड एसोसिएशन, होटल्स एसोसिएशन, ट्रेवल्र्स एसोसिएशन, गेस्ट हाउस मालिकों इत्यादि के अनुरोध और विचार-विमर्श के बाद आगामी एक अक्टूबर से मेहरानगढ़ दुर्ग खोला जा रहा है। इससे न सिर्फ पर्यटन से जुड़े व्यवसायियों को राहत पहुंचेगी वरन पर्यटन व्यवसाय से जुड़े छोटे व्यापारियों को पुन: रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे जो पिछले 6 महीनों से बंद पड़े थे। उन्होंने बताया कि मेहरानगढ़ दुर्ग खुलने पर विजिटर्स की सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए जा रहे है, जिसमें ऑनलाइन टिकट की विशेष व्यवस्था रहेगी। सीमित संख्या में ही विजिटर्स को प्रवेश दिया जाएगा। डिजिटल थर्मामीटर से जांच, सोशियल डिस्टेसिंग के नियमों की पालना, समय-समय के अंतराल पर परिसर का सेनेटाइजेशन व अन्य सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को पूर्ण किया जाएगा। मेहरानगढ़ कर्मचारियों, गाइड बंधुओं को भी इससे सम्बन्धित प्रशिक्षण दिया जा रहा है। बता दे कि वैश्विक महामारी कोरोना के कारण मेहरानगढ़, जसवंत थड़ा, उम्मेद भवन पैलेस संग्रहालय पर्यटकों के लिए मार्च से बंद हैं। ऐसे में मेहरानगढ़ के पर्यटकों के लिए खुलने से पिछले छह माह से आर्थिक रूप से परेशान हजारों परिवार के लिए फिर से रोजगार के नए द्वार भी खुल सकते है। पर्यटन व्यवसाय पर निर्भर पांच सितारा होटल्स, गेस्ट हाउस, हवाई सेवाएं, बस, कोच, टूरिस्ट टैक्सी, ऑटो चालक, तांगा वाले, टूरिस्ट गाइड, हैण्डीक्राफ्ट व्यवसायी सहित हजारों परिवारों का जीवन पर्यटन व्यवसाय से प्रभावित होता है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in