मां व बच्चे को समुचित पोषण मिले, तभी बच्चे बनेंगे चैंपियन-भूपेश
मां व बच्चे को समुचित पोषण मिले, तभी बच्चे बनेंगे चैंपियन-भूपेश
राजस्थान

मां व बच्चे को समुचित पोषण मिले, तभी बच्चे बनेंगे चैंपियन-भूपेश

news

जयपुर, 14 सितम्बर(हि.स.)। महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ममता भूपेश ने कहा कि गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के पोषण की जिम्मेदारी परिवार के साथ साथ पूरे समाज की साझा जिम्मेदारी होती है। हर बच्चे में चैंम्पियन बनने की क्षमता है इसलिए मां एवं बच्चे को समुचित पोषण देना हम सभी की साझा जिम्मेदारी है। भूपेश सोमवार को महिला अधिकारिता निदेशालय स्थित सभागार में पोषण माह के औपचारिक उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित कर रही थी। उन्होंने बताया कि पूरे देश में सितम्बर माह पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है और राजस्थान में महिला बाल विकास विभाग द्वारा बालकों, किशोरी बालिकाओं एवं महिलाओं को शारीरिक एवं मानसिक रूप से सबल बनाने तथा कुपोषण को दूर करने के लिए एक अभिनव ‘जिम्मेदारी अभियान‘ शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि अभियान में कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में प्रमुख हित धारकों समुदाय सामाजिक संस्थाओं व्यक्तियों और परिवार के सदस्यों द्वारा निभाई जाने वाली भूमिका के महत्व को दोहराया गया है। उन्होंने लोक गायक मामे खान द्वारा गाया ‘म्हारी चैंम्पियन‘ गीत को राजस्थान के पोषण गान के रूप में जारी किया। इस गीत का मुख्य मंत्र बच्चों को सही और पर्याप्त पोषण के लिए जागरूक करना है। साथ ही पोषक भोजन एवं व्यंजन को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने यूनिसेफ की ओर से तैयार ‘पोषण, परिवार और दुलार पुरुष बने जिम्मेदार ‘एवं आई पी ई ग्लोबल की ओर से तैयार की गयी ‘चौंपियन के लिए खाना बनाने की विधि‘ व ‘पौष्टिक आहार बनाने के तरीके‘ सम्बंधित तीन पुस्तकों का लोकार्पण भी किया गया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग के शासन सचिव डॉक्टर के.के. पाठक ने शिशु की देखभाल में घर परिवार की भूमिका पर तीन लघु वीडियो जारी करते हुए अच्छे पोषण के महत्व और उन परिवर्तनों पर भी प्रकाश डाला जो बेहतर पोषण और आहार के लिए आवश्यक है तथा जिन्हें हम घरेलू एवं स्थानीय स्तर पर आसानी से उपयोग में ला सकते हैं । हिंदुस्थान समाचार/संदीप/ ईश्वर-hindusthansamachar.in