भील आरक्षण समन्वय समिति का राज्य सरकार को अल्टीमेटम, कांकरी डूंगरी पर डाला पड़ाव
भील आरक्षण समन्वय समिति का राज्य सरकार को अल्टीमेटम, कांकरी डूंगरी पर डाला पड़ाव
राजस्थान

भील आरक्षण समन्वय समिति का राज्य सरकार को अल्टीमेटम, कांकरी डूंगरी पर डाला पड़ाव

news

डूंगरपुर, 07 सितम्बर (हि.स.)। लंबे समय से चल रही अध्यापक पात्रता परीक्षा 2018 में टीएसपी एरिया में रिक्त रही 1167 सीटों पर भर्ती को लेकर भील आरक्षण समन्वय समिति ने राज्य सरकार को सोमवार को एक बार फिर अल्टीमेटम दिया। समिति के सदस्यों ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा गठित प्रशासनिक कमेटी द्वारा 3 माह में रिपोर्ट देनी थी जो अब तक नहीं दी गयी है। भील आरक्षण समन्वय समिति ने चेतावनी दी थी कि 30 अगस्त तक मामले का निस्तारण नहीं किया गया तो राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 जाम कर उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पूर्व में भी राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 पर महापड़ाव डाला गया था जिसको लेकर सरकार ने प्रशासनिक कमेटी गठित कर स्थगित करवा दिया था। कमेटी द्वारा 3 माह में रिपोर्ट देने का वादा किया था जो 9 माह बाद भी पूरा नहीं किया गया। अभ्यर्थियों ने प्रशासनिक कमेटी से 30 अगस्त तक निस्तारण करवाने का अल्टीमेटम दिया था जिसके बावजूद सरकार द्वारा गठित कमेटी ने अब तक उक्त मामले को लेकर कोई निर्णय नही दिया जिसके बाद भील आरक्षण समन्वय समिति के बैनर तले बेरोजगार युवा रविवार देर रात्रि को एक बार पुनः कांकरी डूंगरी पहाड़ियों की ओर रुख कर गए तथा सोमवार को पुनः पहाड़ियों पर महापड़ाव डाल सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। मामले के अनुसार टीएसपी क्षेत्र में खाली पदों को भरने को लेकर पूर्व में जिला मुख्यालय पर छात्रों ने अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया था, इसके बाद राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 के समीप काकरी डूंगरी पहाड़ी पर चढ़कर छात्रों ने सरकार से मांगे मनवाने के लिए प्रयास किया था। इसके बावजूद मांगे पूरी नहीं होने पर रविवार देर रात को एक बार फिर छात्रों ने काकरी डूंगरी की ओर रुख किया। भील आरक्षण समन्वय समिति द्वारा 1167 सीटों पर भर्ती की मांगों को लेकर लगातार संघर्ष किया जा रहा है। सोमवार को अभ्यर्थियों ने खुली चेतावनी देते हुए कहा कि 24 घंटों में समस्या का समाधान नहीं हुआ तो राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 कभी भी जाम हो सकता है। हिंदुस्थान समाचार / संतोष व्यास/ ईश्वर-hindusthansamachar.in