भाजपा ने ट्वीटर पर हैशटैग 'कब होगा न्याय' अभियान से कांग्रेस सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा
भाजपा ने ट्वीटर पर हैशटैग 'कब होगा न्याय' अभियान से कांग्रेस सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा
राजस्थान

भाजपा ने ट्वीटर पर हैशटैग 'कब होगा न्याय' अभियान से कांग्रेस सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

news

जयपुर, 10 सितम्बर (हि.स.)। कांग्रेस सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ भाजपा ने प्रदेशभर में सभी जिला मुख्यालयों पर कलेक्टरों को ज्ञापन देकर विरोध दर्ज कराने के साथ ही ट्विटर पर हैशटैग 'कब होगा न्याय; अभियान भी चलाया, जिसे आमजन का भरपूर समर्थन मिला। प्रदेश भाजपा आइटी प्रभारी अविनाश जोशी ने बताया कि हैशटैग 'कब होगा न्याय' के साथ भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, अर्जुनराम मेघवाल, कैलाश चौधरी, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर, दीयाकुमारी, प्रदेश उपाध्यक्ष सीपी जोशी, मुकेश दाधीच, अल्का गुर्जर, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता रामलाल शर्मा, सांसद रामचरण बोहरा, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, महंत बाबा बालकनाथ, सुभाष बहेड़िया, मनोज राजोरिया, रंजीता कोली, निहालचंद मेघवाल, दुष्यंत सिंह, विधायक वासुदेव देवनानी, रूपाराम मुरावतिया, रामलाल शर्मा, पब्बाराम विश्नोई, प्रतापसिंह सिंघवी, सुरेश रावत, अनीता भदेल, सुभाष पूनियां, प्रदेश भाजपा मीडिया प्रभारी विमल कटियार, प्रदेश आइटी प्रभारी अविनाश जोशी एवं तमाम सांसदों, विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों, जिला अध्यक्षों एवं कार्यकर्ताओं ने जनविरोधी नीतियों के खिलाफ ट्वीट कर कांग्रेस सरकार को कठघरे में खड़ा किया। प्रदेश भाजपा सोशल मीडिया प्रभारी हीरेन्द्र कौशिक ने बताया कि हैशटैग 'कब होगा न्याय' अभियान के समर्थन में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष, प्रदेश संगठन महामंत्री, केन्द्रीय मंत्रियों, पार्टी के सभी प्रमुख नेताओं, सांसदों, विधायकों, जिला अध्यक्षों, कार्यकर्ताओं, आमजन ने 24 हजार से अधिक ट्वीटस किये, जो दिनभर नेशनल ट्रेंड में रहा, वहीं, इससे पहले 29 अगस्त को हैशटैग 'गहलोत सरकार होश में आओ' के समर्थन में 25 हजार से अधिक ट्वीटस, 28 अगस्त को हैशटैग 'भाजपा का हल्ला बोल' के समर्थन में 15 हजार से अधिक ट्वीटस हुये, भाजपा के इन सभी ट्विटर अभियानों को शानदार जनसमर्थन मिला, और सभी अभियान ट्विटर पर नेशनल ट्रेंड में भी रहे। उल्लेखनीय है कि सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी, टिडि्डयों से फसलों को हुए नुकसान के मुआवजे की मांग, पेट्रोल व डीजल पर वैट कम करने की मांग, बढ़ी हुई बिजली दरें वापस लेने, कोरोनाकाल के चार महीने के बिजली बिल माफ करने, लंबित भर्तियों को पूरा करने, बिगड़ी कानून व्यवस्था को पटरी पर लाने, कोरोना से संबंधित चिकित्सा सुविधाओं को दुरुस्त करने, बेरोजगारी भत्ता सुचारू करने, गायों के संरक्षण को लेकर लिये जा रहे सेस का गायों पर सही उपयोग हो, सहित विभिन्न मांगों को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा के हल्ला बोल अभियान को जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक शानदार जनसमर्थन मिल रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in