बेरोजगारी से तंग आकर मजदूर ने लगाया फांसी का फंदा
बेरोजगारी से तंग आकर मजदूर ने लगाया फांसी का फंदा
राजस्थान

बेरोजगारी से तंग आकर मजदूर ने लगाया फांसी का फंदा

news

जयपुर,23 जुलाई(हि.स.)। सांगानेर सदर थाना इलाके में एक मजदूर ने बेरोजगारी से तंग आकर फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को मोर्चरी में रखवाया। जहां गुरूवार को पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया। जांच अधिकारी हैडकांस्टेबल मुज्जफर खान ने बताया कि मूलतया सुरेली जिला टोंक का रहने वाला शंकर लाल रैगर इलाके स्थित श्रीराम की नांगल में अपने परिवार के साथ किराए से रहता था। लॉक डाउन होने पर वह अपनी पत्नी और दो बच्चों को गांव छोड़ आया था। काफी समय बेरोजगार रहने के दौरान तीन दिन पहले वह जयपुर आया था। यहां काम की तलाश में घूमा । लेकिन कहीं काम नहीं मिलने पर तनाव में आ गया और अपने कमरे में रस्सी का फंदा लगाकर पंखे से हुक से लटक गया। बुधवार रात दुर्गन्ध आई तो पड़ौसी किराएदार ने उसके कमरे में खिड़की से झांककर देखा, शंकर फंदे से लटका दिखाई दिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी में शव को रखवाया। जहां गुरुवार सुबह परिजन आने पर पोस्टमार्टम के बाद शव उनके हवाले कर दिया गया। परिजनों के अनुसार शंकर जयपुर में मजदूरी करता था और पिछले कुछ दिनों से आर्थिक तंगी से झूझ रहा था। इस वजह से वह तनाव में था। वह जब गांव से जयपुर गया था तो परिजनों से बात हुई थी लेकिन वह ऐसा करने वाला है इसके बारे में किसी को कुछ नहीं बताया। वह शराब का आदि था। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर-hindusthansamachar.in