पूर्व पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र ने सीएम से मुलाकात कर रखा जाटों का पक्ष
पूर्व पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र ने सीएम से मुलाकात कर रखा जाटों का पक्ष
राजस्थान

पूर्व पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र ने सीएम से मुलाकात कर रखा जाटों का पक्ष

news

जयपुर, 21 नवम्बर (हि.स.)। राजस्थान सरकार में पर्यटन मंत्री रह चुके विश्वेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ मुलाकात कर भरतपुर व धौलपुर के जाटों को आरक्षण देने की वकालत की। उन्होंने सीएम गहलोत के साथ दोनों जिलों के जाट समाज को आरक्षण से वंचित रखने की जानकारी देते हुए केन्द्र सरकार को सिफारिशी चिट्ठी भेजने की मांग की। उन्होंने बताया कि सीएम अशोक गहलोत से मुलाकात में भरतपुर और धौलपुर के जाट समाज की आरक्षण की मांग के मुद्दे पर चर्चा की है। उम्मीद है कि राज्य सरकार जल्द से जल्द इसके समर्थन में केन्द्रीय सरकार को पत्र भेजने का निर्णायक कदम उठाएगी। उन्होंने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने जाटों को ओबीसी में शामिल किया था। 1999 में भरतपुर और धौलपुर के जाटों को इससे वंचित रखा गया। इसके लिए हमने लंबी लड़ाई लड़ी। दोबारा सर्वे हुआ। इसके बाद भरतपुर और धौलपुर के जाटों को राज्य में आरक्षण मिला। लम्बे समय से हम इस आरक्षण की सिफारिश केंद्र से करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि भरतपुर-धौलपुर के जाट समाज को 1999 में आरक्षण दिया गया था, जिसे 2013 में समाप्त कर दिया गया। इसके बाद समाज ने लंबा आंदोलन किया और पुन: 2017 में राज्य सरकार ने आरक्षण दिया, लेकिन केन्द्र में अब तक आरक्षण का लाभ नहीं मिल सका है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर-hindusthansamachar.in