पायलट मामले में शुक्रवार को फ‍िर सुनवाई
पायलट मामले में शुक्रवार को फ‍िर सुनवाई
राजस्थान

पायलट मामले में शुक्रवार को फ‍िर सुनवाई

news

जयपुर, 23 जुलाई (हि.स.)। सचिन पायलट सहित 19 विधायकों को विधानसभा स्पीकर की ओर से दिए नोटिस के खिलाफ दायर याचिका पर शुक्रवार को हाईकोर्ट में मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और न्यायाधीश प्रकाश गुप्ता की खंडपीठ में फिर सुनवाई होगी। अदालत ने मामले में चौबीस जुलाई तक सुनवाई टालते हुए स्पीकर से आग्रह किया था कि वह हाईकोर्ट के आदेश देने तक नोटिस पर प्रस्तावित कार्रवाई को स्थगित रखें। इसके साथ ही अदालत ने मामले में एक एनजीओ सहित दो अन्य को इंटरवीनर बनाया था। आदेश देने की श्रेणी में सूचीबद्ध नहीं होने के कारण शुक्रवार को केस में पायलट गुट की ओर से केन्द्र सरकार को पक्षकार बनाने के लिए प्रस्तुत प्रार्थना पत्र पर सुनवाई हो सकती है। सीजे की नसीहत, ज्यादा नफरत ठीक नहीं मंगलवार को सुनवाई के दौरान मुख्य न्यायाधीश ने सभी पक्षकारों का कहा कि किसी भी चीज से जरुरत से ज्यादा नफरत करना ठीक नहीं है, नहीं तो वह चीज आपके पास ही आ जाती है। सीजे ने कहा कि बोर्डिंग में रहकर स्कूल जाने के दौरान उन्हें जूते-मौजे पहनना और लंबे लेख लिखना बुरा लगता था, लेकिन अब जज बनने के बाद उन्हें दोनों काम करने पड़ रहे हैं। पायलट गुट की ओर से केन्द्र सरकार को पक्षकार बनाने की प्रार्थना पत्र पायलट गुट की ओर से एमएलए पीआर मीणा व अन्य ने स्पीकर नोटिस विवाद केस में बुधवार को हाईकोर्ट में केन्द्र सरकार को पक्षकार बनाने का प्रार्थना पत्र दायर किया। इसमें कहा गया कि प्रार्थियों ने याचिका में संविधान की दसवीं अनुसूची के प्रावधानों को चुनौती दी है और ऐसे में केन्द्र सरकार को भी पक्षकार बनाया जाना चाहिए। इसलिए अदालत इस मामले में केन्द्र सरकार के विधि व न्याय मंत्रालय के सचिव को भी पक्षकार बनाए। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप/ ईश्वर-hindusthansamachar.in