न्यायालय की महिला बाबू की कोरोना संक्रमित, मचा हड़कम्प
न्यायालय की महिला बाबू की कोरोना संक्रमित, मचा हड़कम्प
राजस्थान

न्यायालय की महिला बाबू की कोरोना संक्रमित, मचा हड़कम्प

news

चितौड़गढ़, 24 जुलाई (हि.स.)। जिला मुख्यालय पर निम्बाहेड़ा मार्ग स्थित जिला एवं सेशन न्यायालय परिसर में स्थित एक न्यायालय में कार्यरत महिला बाबू की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके बाद न्यायालय परिसर में नगर परिषद की ओर से हाइपोक्लोराइट का छिड़काव किया जा रहा है। वहीं पॉजिटिव रिपोर्ट की सूचना मिलते ही न्यायालय परिसर में हड़कम्प मचा हुवा है। जानकारी के अनुसार निम्बाहेड़ा मार्ग स्थित न्यायालय में कार्यरत न्यायिक कर्मचारियों व अधिकारियों की दो दिन पूर्व कोरोना जांच को लेकर सेम्पलिंग हुई थी। वहीं गुरुवार को अधिवक्ताओं की सैंपलिंग की गई थी। इसमें न्यायिक कर्मचारियों व अधिकारियों की कोरोना रिपोर्ट शुक्रवार दोपहर को आई है। इसमें यहां के एक न्यायालय में कार्यरत महिला बाबू की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। इसके बाद न्यायालय में पूरी तरह से एहतियात बरते जा रहे हैं। चिकित्सा एवं जिला प्रशासन की सूचना पर सभी महकमें अलर्ट हो गए। न्यायालय परिसर में सभी प्रकार के एहतियात बरते जा रहे हैं। महिला बाबू की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद न्यायालय में न्यायिक कर्मचारियों के साथ ही अधिवक्ताओं में भी हडकम्प मच गया। चिकित्सा प्रशासन अब इस महिला कर्मचारी की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री निकालने में जुटी हुई है। साथ ही इस महिला कर्मचारी के निवास स्थान पर भी हाइपोक्लोराइट का छिड़काव करवाया व इस मोहल्ले में कर्फ्यू लगाया गया है। वहीं न्यायालय में कार्यरत कुछ अधिवक्ता गुरुवार को सैम्पल नहीं दिए उन्होंने भी कोविड़ सेन्टर के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं। इन्हें अब शनिवार सुबह बुलाया गया है। वहीं जिन अधिवक्ताओं की कोविड़ जांच के लिए सेम्पलिंग गुरुवार को हुई थी, जिसकी रिपोर्ट शनिवार को आएगी। इधर, अभिभाषक संस्था चित्तौड़गढ़ के अध्यक्ष महेंद्रसिंह मेड़तिया ने सभी से सोशल डिस्टेंस अपनाने और मास्क लगाने की अपील की है। हिन्दुस्थान समाचार/अखिल/ ईश्वर-hindusthansamachar.in