निगम चुनाव में दिल्ली के दखल के बावजूद कांग्रेस की हालत खस्ता: सिंघवी
निगम चुनाव में दिल्ली के दखल के बावजूद कांग्रेस की हालत खस्ता: सिंघवी
राजस्थान

निगम चुनाव में दिल्ली के दखल के बावजूद कांग्रेस की हालत खस्ता: सिंघवी

news

जयपुर, 17 अक्टूबर (हि. स.)। छबड़ा विधायक व पूर्व मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी ने नगर निगम चुनाव में कांग्रेस की ओर से नेताओं की पूरी फौज उतारने के बावजूद टिकट वितरण की लड़ाई दिल्ली तक पहुंचने को हास्यास्पद बताया है। उन्होंने कहा कि निगम चुनाव में यह पहली बार देखने को मिल रहा है कि किसी पार्टी ने चार राष्ट्रीय पदाधिकारियों को पर्यवेक्षक तैनात किया है। कांग्रेस आलाकमान की ओर से भेजे गए काजी निजामुद्दीन, तरुण कुमार, सोनल पटेल व वीपी सिंह के अनावश्यक दखल ने विधायकों व स्थानीय नेताओं को विद्रोह के लिए मजबूर कर दिया है। सिंघवी ने कहा कि न मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विवाद को सुलझा पा रहे हैं और न ही प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा। अब गेंद प्रभारी महासचिव अजय माकन के पाले में है। हो सकता है सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के हस्तक्षेप के बाद बवाल थमे। उन्होंने कहा इस घटनाक्रम से साबित हो गया है कि निगम चुनाव में कांग्रेस की करारी हार तय है। भाजपा सभी छह निगमों में जीत दर्ज करेगी। हिन्दुस्थान समाचार/ ईश्वर/संदीप-hindusthansamachar.in