जयपुर हैरिटेज व कोटा दक्षिण निगम में शहरी सरकार की सत्ता हथियाने की जद्दोजहद
जयपुर हैरिटेज व कोटा दक्षिण निगम में शहरी सरकार की सत्ता हथियाने की जद्दोजहद
राजस्थान

जयपुर हैरिटेज व कोटा दक्षिण निगम में शहरी सरकार की सत्ता हथियाने की जद्दोजहद

news

जयपुर, 05 नवम्बर (हि. स.)। जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के परिणाम आने के बाद अब कांग्रेस व भाजपा के बीच जयपुर हैरिटेज और कोटा दक्षिण में मेयर पद हथियाने की जद्दोजहद शुरु हो गई है। दोनों दलों ने छहों निगमों में जीते अपने-अपने पार्षदों की बाड़ाबंदी कर रखी है। दोनों दलों के वरिष्ठ नेता लगातार बैठकें कर शहरी सरकार के मुखिया का नाम तय करने की रणनीति पर फोकस किए हुए हैं। जयपुर हैरिटेज में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है और उसे बोर्ड बनाने के लिए 4 पार्षद चाहिए। ऐसे में माना जा रहा है कि यहां कांग्रेस सत्ता हथिया सकती है। मेयर पद के लिए नामांकन का गुरुवार को आखिरी दिन हैं, जबकि छहों निगमों के लिए भाजपा और कांग्रेस ने शहरी सरकार के संभावित मुखिया को लेकर अपने पत्ते नहीं खोले हैं। अभी जयपुर ग्रेटर और जोधपुर दक्षिण में भाजपा, जबकि जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर में कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत है। कोटा दक्षिण के 80 वार्ड में कांग्रेस-भाजपा को 36-36 सीटें मिली हैं। 8 सीटें अन्य के पास हैं। यानी हैरिटेज और कोटा दक्षिण में निर्दलीय किंगमेकर बनेंगे। निर्दलीयों का झुकाव यह तय करेगा कि यहां मेयर ओर बोर्ड किसका होगा। जयपुर के दोनों निगमों में मेयर पद महिला ओबीसी, जोधपुर के दोनों निगमों में सामान्य महिला और कोटा उत्तर में एससी महिला के लिए आरक्षित है। जयपुर हैरिटेज निगम में बोर्ड व मेयर कांग्रेस का संभव है। इसके लिए आदर्श नगर वार्ड 85 से पार्षद सुनीता मावर व सिविल लाइंस वार्ड 43 से पार्षद मुनेश गुर्जर का नाम चर्चा में हैं। झोटवाड़ा के वार्ड 60 से पार्षद शील धाभाई और सांगानेर के वार्ड 87 से पार्षद व महिला आयोग की सदस्य रहीं सौम्य गुर्जर का नाम चर्चा में आया है। जोधपुर के दोनों निगमों में एक मेयर भाजपा को तो एक कांग्रेस का बनेगा। उत्तर निगम में कांग्रेस का मेयर बनेगा। यहां राजस्थान आवासन मंडल के पूर्व अध्यक्ष व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मानसिंह देवड़ा की पुत्री कुंती देवड़ा तथा कांग्रेस जिलाध्यक्ष सईद अंसारी की बेटी मेहराज का नाम चर्चा में चल रहा है। जोधपुर दक्षिण में भाजपा को बहुमत है। यहां से संघ पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखने वाले मुकनसिंह की पत्नी जोधपुर महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष व निगम के पहले भाजपा बोर्ड में पार्षद रही इंद्रा राजपुरोहित और कॉनकोर निदेशक वनिता सेठ का नाम चर्चा में है। कोटा उत्तर निगम में कांग्रेस का बोर्ड तय है। यहां वार्ड 55 से पार्षद मंजू मेहरा और वार्ड 67 से रेणु नरवाला का नाम चर्चा में है। कोटा दक्षिण में मामला फंसा हुआ है। दोनों पार्टियों की बराबर सीटें हैं। ऐसे में 8 निर्दलीय तय करेंगे कि बोर्ड और मेयर किसका होगा। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप-hindusthansamachar.in