घंटों बाद भी नहीं चला कुएं में जमींदोज श्रमिक का पता
घंटों बाद भी नहीं चला कुएं में जमींदोज श्रमिक का पता
राजस्थान

घंटों बाद भी नहीं चला कुएं में जमींदोज श्रमिक का पता

news

सिरोही, 14 अक्टूबर (हि. स.)। शिवगंज स्थित पंचदेवल में कुआं ढहने से मलबे में दबे मजदूर के मामले में प्रशासन को अब तक कोई सफलता नहीं मिली है। घंटों बाद भी प्रशासन के हाथ खाली हैं। हालांकि रेस्क्यू टीम लगातार कुएं को खाली कर मजदूर को ढूढऩे का प्रयास कर रही है। स्थानीय विधायक संयम लोढ़ा सहित प्रशासनिक अधिकारी और रेस्क्यू टीम के लोग मौके पर हैं। शिवगंज के पंचदेवल में मंगलवार दोपहर को एक कृषि कुएं की मरम्मत के दौरान कुआं भरभरा कर ढह गया था। हादसे के वक्त तीन मजदूर कार्य कर रहे थे। दो मजदूर रस्सी के सहारे बाहर निकल आए, पर एक मजदूर मुन्नाराम भील मिट्टी के ढेर में दब गया। घटना की जानकारी मिलने पर विधायक संयम लोढ़ा, जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद, एसपी पूजा अवाना, एसडीएम भागीरथ चौधरी सहित रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू शुरू किया। मंगलवार को कोई सफलता नहीं मिली और रात होने के बाद रेस्क्यू को रोका गया। बुधवार सुबह प्रशासन ने प्लान बनाकर पहले कुएं में मौजूद पानी को खाली करवाया। बाद में बोरिंग करने वाली वाली मशीन को मौके पर बुलाकर प्रेशर के सहारे पानी को खाली करने के प्रयास शुरू किए गए। करीब 120 फीट गहरे कुएं में मिट्टी और पानी भरा है। इसके चलते प्रशासन को रेस्क्यू करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रेस्क्यू के दौरान एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। 15 सदस्यों की टीम लगातार तकनीकी और परम्परागत रणनीति के तहत दबे मजदूर को निकालने का प्रयास कर रहे हैं, पर कोई सफलता नहीं मिल रही है। परिजन और ग्रामीण लगातार उम्मीद भरी निगाहों से कुएं के सामने टकटकी लगाए बैठे हैं कि दबा मजदूर सकुशल बाहर आ जाए। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/संदीप-hindusthansamachar.in