गैंगस्टर पपला गुर्जर सहित बड़े अपराधियों को पकडऩे के लिए बनाया गया एक्शन प्लान
गैंगस्टर पपला गुर्जर सहित बड़े अपराधियों को पकडऩे के लिए बनाया गया एक्शन प्लान
राजस्थान

गैंगस्टर पपला गुर्जर सहित बड़े अपराधियों को पकडऩे के लिए बनाया गया एक्शन प्लान

news

जयपुर,12 सितम्बर(हि.स.)। राजस्थान और हरियाणा पुलिस के आला अधिकारियों ने शनिवार को संयुक्त बैठक कुख्यात अपराधी गैंगस्टर पपला गुर्जर सहित बड़े अपराधियों को पकडऩे का एक्शन प्लान तैयार किया गया है। हरियाणा के खरखड़ा स्थित पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में शनिवार को अंतरराज्यीय पुलिस समन्वय समिति की दक्षिण रेंज हरियाणा के पुलिस महानिरीक्षक विकास अरोड़ा की अध्यक्षता मेें बैठक हुई। करीब तीन घंटे चली बैठक में राजस्थान व हरियाणा की पुलिस ने अपराधियों को पकडऩे, अपराधों पर अंंकुश लगाने व एक-दूसरे राज्यों की पुलिस की सहायता कर समन्वय स्थापित करने पर जोर दिया गया। इस दौरान बहरोड़ थाने से फरार महेंद्रगढ़ के गांव खैरोली निवासी कुख्यात अपराधी पपला उर्फ विक्रम गुर्जर को पकडऩे के लिए रणनीति तैयार की गई। पुलिस महानिरीक्षक विकास अरोड़ा ने बताया कि हरियाणा व राजस्थान की सीमा एक-दूसरे से लगी होने के चलते अपराध कर बदमाश दोनों राज्यों में आसानी से आ जाते है। एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में क्राईम करने के बाद राजस्थान में और राजस्थान में क्राईम करने के बाद एनसीआर में अपराधी जाकर छिप जाते है। यही कारण है कि बदमाशों को पकडऩे में सफलता नहीं मिलती। बैठक में आपसी तालमेल बनाए रखने, अपराधों को लेकर एक-दूसरे की सहायता करने के साथ बदमाशों को पकडऩे के लिए जिम्मेदारी देेते हुए सहयोग करने की भी अपील की गई। बैठक में अपराधियों की धरपकड़, नशे एवं अन्य अवैध कारोबार पर लगाम लगाने पर भी चर्चा हुई। पुलिस अधिकारियों ने एक-दूसरे को सूचना का आदान-प्रदान करने का भी निर्णय लिया, ताकि एक-दूसरे इलाके के बारे में सभी को जानकारी रहे। बैठक में राजस्थान के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक राठौड़, जयपुर रेंज पुलिस महानिरीक्षक एस. सेंगथिर, भिवाड़ी पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी, भरतपुर पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर, दौसा पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भिवाड़ी अरुण मच्या, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नीमराना सिद्धांत शर्मा, कोटपुटली पुलिस अधीक्षक रामस्वरूप, एसटीएफ गुरुग्राम पुलिस उपमहानिरीक्षक सतीश बालान, पुलिस अधीक्षक रेवाड़ी अभिषेक जोरवाल, नारनौल पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन, पुलिस अधीक्षक नूंह नरेंद्र, पुलिस अधीक्षक पलवल दीपक, उप पुलिस अधीक्षक सीआईसी विरेंद्र सिंह, उप पुलिस अधीक्षक क्राइम गुरुग्राम राजवीर देशवाल, उप पुलिस अधीक्षक रेवाड़ी से अमित भाटिया आदि मौजूद रहे। गौरतलब है कि 5 सितम्बर 2019 को बहरोड़ थाने में गोलियां दाग कर दर्जनभर से अधिक बदमाश जेल में बंद गैंगस्टर पपला उर्फ विक्रम गुर्जर को छुड़ा ले गए थे। पपला व उसके गुर्गों की तलाश में राजस्थान, हरियाणा, उतरप्रदेश, पंजाब व उत्तराखंड सहित कई राज्यों की पुलिस ने छापेमारी की। एक वर्ष बीतने के बाद भी पुलिस पपला को पकडऩे में कामयाब नहीं हो सकी। हालांकि, राजस्थान की आंतकवादी निरोधक दस्ता (एटीएस) व स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) व भिवाड़ी पुलिस अब तक पपला गैंग के 35 बदमाशों को पकड़ चुकी है, लेकिन पपला को पकडऩा पुलिस के लिए चुनौती भरा है। गैंगस्टर पपला गुर्जर पर राजस्थान पुलिस ने एक लाख और हरियाणा पुलिस ने दो लाख का इनाम भी घोषित किया हुआ है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/संदीप-hindusthansamachar.in